योगी राज मे प्रदेश विकास मे नम्बर एक —- डा इंदिरा


समाज जागरण
विश्वनाथ त्रिपाठी

उत्तर प्रदेश मे जब से योगी सरकार ने कार्यभार सम्हाला विकास की ऐसी वयार चली की देश मे नम्बर एक पर गिना जाने लगा | ए बाते डाक्टर इंदिरा तिवारी ने एक भेटवार्ता मे कही |
योगी आदित्यनाथ निश्चित रूप से हिन्दुत्व हितैषी है और इस बात से कोई इंकार नहीं कर सकता है कि वो हमेशा से ही हिन्दुओं के पक्ष में मुखर रूप से खड़े रहे हैं और योगी आदित्यनाथ कभी इसके लिए इंकार भी नहीं करते हैं
लेकिन क्या हम उन्हें केवल हिन्दुत्व का चेहरा भर मानकर उनकी प्रशासनिक क्षमता के साथ अन्याय नहीं कर रहे हैं
मेरे कहने से मत मानिये लेकिन आंकड़े तो झूठ नहीं बोलते हैं
उत्तर प्रदेश कभी देश का सबसे बीमारु राज्य माना जाता था
गुंडागर्दी, साम्प्रदायिक दंगे, जातीय दंगे, लूटमार, हत्या, रंगदारी, अपहरण – – –
क्या नहीं था उत्तर प्रदेश में
दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी आबादी, जिसकी आबादी पाकिस्तान से भी ज्यादा है, हमेशा गलत कारणों से ही सुर्खियों में रहता था
जीडीपी, जीएसटी, निवेश आदि शब्द उत्तर प्रदेश के लोग केवल लाइब्रेरी में पढ़ते थे
भ्रष्टाचार ही प्रदेश की संस्कृति थी
स्वतंत्रता के सात दशको तक उत्तर प्रदेश में विभिन्न दलों की सरकारे रही, लेकिन प्रदेश के संसाधनो को लूटने में सभी दलों में मानो होड़ लगी रहती थी
विकास के किसी भी पैमाने में उत्तर प्रदेश हमेशा सबसे निचले पायदान पर रहता था
2017 विधानसभा चुनावो में उत्तर प्रदेश की जनता ने बीजेपी को छप्पर फाड़ कर बहुमत दिया था
2017 विधानसभा चुनावो में बीजेपी के मुख्यमंत्री तक के नाम की घोषणा नहीं हुई थी
केवल नरेंद्र मोदी के नाम पर लोगों ने बीजेपी को भरपूर समर्थन दिया था
तब मोदी ने सबको आश्चर्यचकित करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में योगी आदित्यनाथ को नियुक्त किया
यह फैसला लोगों को हैरान करने वाला लगा था, क्योंकि उत्तर प्रदेश जैसे विशाल राज्य की कमान किसी सन्यासी को देना, लोगों को रास नहीं आया
आज उस बात को पांच साल होने वाले हैं और योगी आदित्यनाथ ने अपनी प्रशासनिक योग्यता से उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि देश के सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री के रूप में उभर कर सामने आए हैं
भ्रष्टाचार के सख्त विरोधी है योगी आदित्यनाथ और पूर्ववर्ती नमाजवादी पार्टी की काफी योजनाओं को रद्द कर उनके नए टेन्डर जारी किए और टैक्स पेयर के अरबों रुपये की राशि बचाई
योगी आदित्यनाथ के पांच साल के कार्यकाल में उत्तर प्रदेश के लोगों की प्रति व्यक्ति आय दुगुनी हुई है
जहाँ 2017 तक प्रति व्यक्ति आय 45000 रुपये वार्षिक थी, अब वो करीब 98000 रुपये है
यह कोई मामूली उपलब्धि नहीं है, विशेष रूप से उत्तर प्रदेश जैसे गरीब और पिछड़े राज्य में, जहाँ के लोग देश के विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार के लिए पलायन करते हैं
बिजनेस को सुगम बनाने में (ease of business doing) में उत्तर प्रदेश देश में दूसरे स्थान पर है
ऐसे राज्य के लिए कोई कल्पना भी नहीं कर सकता था कि ease of business doing जैसे पेचीदा मामले में उत्तर प्रदेश जैसा पिछड़ा राज्य देश के अन्य विकसित राज्यों को छोड़कर दूसरे स्थान पर आ सकता है
जीएसटी संग्रहण में भी उत्तर प्रदेश देश में दूसरे स्थान पर है
एक ऐसा राज्य, जहां टैक्स देना और लेना एक अजीब सी बात थी, वो राज्य अब जीएसटी संग्रहण में दूसरे स्थान पर है और यह कोई कम आश्चर्यजनक बात नहीं है
जिस राज्य की सकल जीडीपी देश में सबसे नीची रखती थीं और जीडीपी फिडीपी पर उत्तर प्रदेश के नेता ज्यादा ध्यान नहीं देते थे, वो राज्य अब सकल जीडीपी के मामले में देश में दूसरे स्थान पर है
अपराध के खिलाफ FIR करना बहुत जरूरी है और उत्तर प्रदेश इस मामले में भी देश में दूसरे स्थान पर है
उत्तर प्रदेश की जनसंख्या देखते हुए राजस्थान जैसे कॉंग्रेस शासित प्रदेशों से अपराध की दर करीब पांच गुणा कम है
ऑस्ट्रेलिया रिटर्न नमाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव के शासन काल में बेरोजगारी की दर जिस उत्तर प्रदेश में 20 प्रतिशत थी, वो अब घटकर 6 प्रतिशत रह गई है
उत्तर प्रदेश में कृषि विकास दर 10 प्रतिशत है, जो कि देश में सबसे ज्यादा है और राष्ट्रीय औसत से दुगुना है
उत्तर प्रदेश में पिछले पांच सालों में विभिन्न औद्योगिक घरानों ने करीब पांच लाख करोड़ रुपये निवेश करने की घोषणा की है
यह एक आश्चर्यजनक घटना है, एक ऐसे राज्य में जहाँ उद्योग पति उद्योग लगाने से डरते थे बल्कि कानपुर जैसे औद्योगिक शहर भी गुंडों के आंतक के कारण बंद हो गए थे
हिन्दुत्व के हितैषी
भ्रस्टाचार विरोधी
सुचारू रूप से कानून व्यवस्था
बिजनेस के लिए अनुकूल माहौल
लोगों की बेहतर होती जिंदगी
गुंडागर्दी पर प्रभावी लगाम
लोगों को उच्च शिक्षा, रोजगार और स्वास्थ्य
चमचमाती सड़के
एक आम आदमी को भला और क्या चाहिए बल्कि अन्य राज्यों के नागरिको को तो योगी आदित्यनाथ जैसे मुख्यमंत्री की आकाँक्षा रहती है
मेरे पास योगी की बीजेपी के उतम प्रदेश के बारे में लिखने के लिए बहुत कुछ बाकी है, लेकिन लेख काफी लम्बा हो गया है
उपसंहार
उत्तर प्रदेश के प्रबुद्ध नागरिको से विनम्र अनुरोध है कि वे जातिवाद और क्षेत्रवाद छोड़कर उत्तर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री श्रद्धेय योगी आदित्यनाथ को एक बार पुनः मुख्यमंत्री बनाने के लिए वोट करे
याद रखे कि आप देश के भावी प्रधान मंत्री को चुन रहे हैं और जातिवाद और तुष्टीकरण करने वाले नमाजवादी पार्टी जैसी भ्रष्ट पार्टी से दूर ही रहने में लाभ है
और राम मन्दिर तो बोनस है और ऐसे बोनस आपको मिलते ही रहेंगे।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: