प्रदेश की योगी सरकार स्वाती मैंथोल फैक्ट्री के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रहीं हैं

प्रदेश की योगी सरकार स्वाती मैंथोल फैक्ट्री के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रहीं हैं

समाज जागरण गुलजार आलम
रामपुर प्रदेश में होने वाले आम विधान सभा चुनाव से पहले भी प्रदेश की योगी सरकार स्वाती मैंथोल फैक्ट्री के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रहीं हैं जिससे साफ जाहिर होता हैं कि योगी सरकार उद्योगपतियों को बचाने का काम कर रहीं हैं।
बताते चले कि बरेली रोड स्थित स्वाती मैंथोल फैक्ट्री की दो यूनिटे है। फैक्ट्री के आसपास के ग्रामीणों का आरोप हैं कि स्वाती मैंथोल फैक्ट्री का जहरीला व दूषित पानी कुछ नालों के जरिये बाहर निकाल दिया जाता हैं बाकी पानी को फैक्ट्री के अंदर बने बोरिंगों के जरिये जमीन के नीचे पैवस्त किया जा रहा हैं। जमीन के नीचे हजारो फिट गड्डे कराकर फैक्ट्री के जहरीले व दूषित पानी को पैवस्त तो किया जा रहा हैं लेकिन वहीं जहरीला व दूषित पानी आसपास के ग्रामों में लगे नलों से निकल रहा हैं जिस कारण ग्रामीणों के सामने स्वच्छ पेयजल की समस्या बनी हुई हैं साथ ही गंभीर बीमारियों ने उन्हे जकड़ रखा हैं। फैक्ट्री प्रबंधनतंत्र के अडियल रवैये व ऊंची पहुंच के कारण पीड़ित ग्रामीण बेबस नजर आ रहे हैं। ग्रामीणों को यह उम्मीद थी कि प्रदेश की योगी सरकार इसपर ठोस कार्रवाई कर उन्हे इंसाफ दिलाने का काम करेगी लेकिन आज तक उक्त ग्रामीण इंसाफ के लिए तरस रहे हैं। ग्रामीणों का कहना हैं कि प्रदेश की योगी सरकार गरीबांें के लिए मसीहा बनकर सत्ता में आई थी लेकिन स्वाती मैंथोल पर कार्रवाई नहीं होने से लगता हैं कि वह उद्योगपतियों की सरकार हैं न कि गरीबों की। ग्रामीणों का कहना हैं कि इस विस चुनाव में जो उन्हे स्वाती मैंथोल के जहरीले व दूषित पानी से बचाने का वायदा करेगा उसे ही वोट देंगे। उधर समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष वीरेन्द्र गोयल ने कहा कि प्रदेश की योगी सरकार को उद्योगपति चला रहे हैं इसलिए वह ऐसे स्वाती मैंथोल फैक्ट्री के खिलाफ क्यों कोई कार्रवाई करेगी। सपा सरकार आने पर स्वाती मैंथोल जैसी फैक्ट्री मालिकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर ग्रामीणों को इंसाफ दिलाया जायेगा।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: