पुलिस वालों का विडियो बनाना पड़ा महंगा, तस्करी में भेजा जेल

समाज जागरण

खाकी और खादी से पंगा लेना कितना महंगा पड़ सकता है यह आप सोच भी नही सकते है। किसी के पास में सत्ता है तो किसी के पास में ताकत। जब चाहे आपको किसी भी जुर्म में जेल भेज सकते है। एक वेंडर को विडियो बनाना इतना महंगा पड़ सकता है यह तो आपके कल्पना से पड़े है। आप पुलिस वालों के विडियों बनाएंगे और उनके करतूत को उजागर करेंगे तो आपको किसी भी जुर्म आपको जेल जाने पड़ सकते है।

नोएडा सेक्टर 57 में चाय की दुकान करने वाले वेंडर राजनाथ सोनकर को भी विडियों बनाने की सजा में जेल जाना पड़ा। उनको क्या पता था कि पीसीआर की जिप्सी नंबर 12 से पंगा लेना इतना महंगा पड़ सकता है। 19 दिसंबर को उन्होने विडियों बनाया था और 31 दिसंबर को उनको तस्करी के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया गया। पूछते रहे कि हमे किस जुर्म में गिरफ्तार किया गया है लेकिन उनको कुछ नही बताया गया। अगले दिन यानि कि 1 जनवरी को जब उनको मेडिकल के लिए ले जाया जा रहा था तो पुलिस वालों ने बताया कि उनके गाड़ी से 6 पेटी शराब मिला है।

पीड़ित का कहना है कि हमारा दोष सिर्फ यह है कि हमने सेक्टर 57 चौकी के दरोगा विकास कुमार का विडियो बनाया था इसलिए हमे जानबुझकर फंसाया गया है। अगर हमारे गाड़ी में शराब था तो हमारे फिंगर प्रिंट का निशान तो होगा। हम नोएडा पुलिस कमीशनर और प्रदेश के मुख्यमंत्री से मांग करते है कि इसका फारेंसिक जांच करवाये जाये और उसके बाद अगर मै दोषी हूँ तो हमे जो भी सजा हो दी जाय। हमे मेडिकल कराने ले जा रहे पुलिस वालों नें कहा कि तुम लोग पुलिस को कमाने खाने नही देते हो, महीने के 100 रुपये दे दोगे तो क्या होगा सिर्फ 3 रुपये तो पड़ेगा रोज की।

19 दिसंबर को दरोगा विकास कुमार और उनके टीम तोड़फोड़ कर रहे थे तो हम और अपर्णा जी नें मिलकर विडियो बनाया था। इसलिए जब हमे पकड़ा गया तो जबरदस्ती गाड़ी के चाबी ले लिया गया औऱ हमे जबरदस्ती उतारकर जिप्सी में लेटा दिया। घंटो भर घुमाने के बाद थाने लेकर पहुँचे। हमारे गाड़ी को दुसरे पुलिस वाले थाने ले गया जो कि अभी भी थाने में खड़ी है। उस गाड़ी की जांच फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट से अगर करवाये जायेंगे तो सच सामने आयेगा।

मै यहाँ बता दूँ कि राजनाथ सोनकर के पत्नी के नाम से नोएडा प्राधिकरण ने वेंडिग जोन में दुकान एलाट किया हुआ है। राजनाथ के पास में एक गाड़ी है जो कि कभी कभी किराया पर चलाते है। राजनाथ रेहड़ी पटरी संचालक वेलफेयर एसोसिएशन के सक्रिय सदस्य है और अक्सर वेंडर के समस्या को लेकर आवाज उठाते रहते है। लेकिन इस मामले के बाद उनके छवि को काफी आहत हुआ है।

पुलिस का टवीट

अवैध शराब की तस्करी करने वाला अभियुक्त गिरफ्तार, कब्जे से 06 पेटी अवैध शराब, तस्करी में प्रयुक्त बोलेरो गाड़ी व नकद 5190 रूपये बरामद:-थाना सेक्टर-58 नोएडा।

पुलिस का वो विडियो जो 19 दिसंबर को बनाया गया था

Please follow and like us:
%d bloggers like this: