fbpx

तुलसी के पत्तों से होनेवाले ये 10 फायदे

तुलसी के पत्तों से होनेवाले ये 10 फायदे

तुलसी के फायदे – हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे को बेहद पवित्र माना जाता है इतना ही नहीं तुलसी भगवान विष्णु को भी अतिप्रिय है. यही वजह है कि सदियों से ही हिंदू धर्म में तुलसी की पूजा करने की परंपरा चली आ रही है.

तुलसी का पौधा पवित्र होने के साथ-साथ औषधिय गुणों से भरपूर है. इसलिए आयुर्वेद में प्राचीन काल से ही तुलसी के पत्तों का इस्तेमाल कई तरह के रोगों के उपचार के लिए भी किया जाता रहा है.

सांस की बीमारी, मुंह के रोग, बुखार, दमा और फेफड़ों की बीमारी सहित कई रोगों के इलाज में तुलसी के पत्तेरामबाण साबित होते हैं. इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और संक्रामक रोगों से छुटकारा भी मिलता है.
लेकिन आज इस लेख के माध्यम से हम आपको तुलसी के फायदे बताने जा रहे हैं जो आपको शायद ही कोई बता पाए.

1- रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए
तुलसी के पत्तों में जीवनशैली से जुड़ी कई बीमारियों का कारगर इलाज छुपा हुआ है. आयुर्वेद में कहा गया है कि प्रतिदिन तुलसी की कुछ पत्तियों को चबाकर खाने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.

2- दिमागी ताकत को बढ़ाती है तुलसी
अगर आप अपने मस्तिष्क की शक्ति को बढ़ाना चाहते हैं तो फिर आपको हर रोज तुलसी के 5 पत्तों का सेवन पानी के साथ करना चाहिए. इससे बुद्धि तेज होती है और दिमागी ताकत बढ़ती है.

3- पुराना सिरदर्द हो जाता है गायब
बताया जाता है कि तुलसी के तेल की एक से दो बूंदे नाक में टपकाने से पुराना सिरदर्द भी गायब हो जाता है और इसके साथ ही सिर से संबंधित दूसरे रोग भी दूर होते हैं.

4– निखरती है चेहरे की रंगत
आयुर्वेद के अनुसार तुलसी के तेल को नियमित रुप से चेहरे पर लगाने से चेहरे की रंगत साफ होती है और चेहरे में गज़ब का निखार आता है.

5– कान के सूजन को करे दूर
अगर आपके कान के पीछे सूजन आ गई है तो फिर तुलसी के पत्ते आपको इससे निजात दिला सकते हैं. इसके लिए तुलसी के कुछ पत्ते और अंरडी के कोपलों के साथ चुटकी भर नमक मिलाकर इसे पीस लें, फिर इस लेप को हल्का गुनगुना करके कान के पीछे लगा लें इससे सूजन दूर हो जाएगी.

6– दांत के दर्द को करे गायब
जब भी आपके दांतों में दर्द की शिकायत हो तो उसे दूर करने के लिए काली मिर्च और तुलसी के पत्तों की गोली बनाकर दांतों के नीचे रख लें. ऐसा करने से कुछ ही देर में आपके दांतों का दर्द गायब हो जाएगा.

7– गले की तकलीफ से राहत
अगर आपके गले में किसी भी तरह की परेशानी हो रही है तो तुलसी के पत्तों के रस को गुनगुने पानी में मिलाकर कुल्ला करना चाहिए. इससे गले के रोगों से काफी हद तक राहत मिलती है.

8- पूरे मुंह को रखता है स्वस्थ
तुलसी के पत्ते दांतों के साथ-साथ पूरे मुंह को स्वस्थ रखने में काफी मदद करते हैं. अगर आप नियमित रुप से तुलसी के रस को पानी में हल्दी और सेंधा नमक के साथ मिलाकर कुल्ला करते हैं. इससे आपके दांत, मुंह और गले के विकार दूर होते हैं.

9– खांसी और अस्थमा में फायदेमंद
तुलसी के पत्तों का रस, सोंठ, प्याज का रस और शहद को मिलाकर उसका मिश्रण तैयार कर लें. इस मिश्रण को चाटने से सूखी खांसी और अस्थमा से काफी हद तक राहत मिलती है.

10– सर्दी-जुकाम हो जाता है ठीक
छोटे बच्चों को बार-बार सर्दी-जुकाम की समस्या हो जाती है ऐसे में तुलसी के पत्तों का रस और अदरक के रस की कुछ बूंदों को शहद के साथ मिलाकर बच्चों को देना चाहिए. इससे बच्चों का सर्दी-जुकाम और कफ ठीक हो जाता है.
https://vatankiawaz.com/

Please follow and like us:
%d bloggers like this: