वर्दी की आड़ मे आतंक, क्यों बन चुके हैं अम्बा थाना के पुलिस अधिकारी ? समीक्षा करें एसपी, पीड़ित

औरंगाबाद :(अनिल कुमार मिश्र) वर्दी के आड़ में जनमानस के बीच आतंंक बन चुके अम्बा थाना के पदेन पुलिस पदाधिकारी अविलंब अपने आप में सुधार लाये और वर्दी के आड़ में आतंक को मचाकर जनता को लूटने का काम को अविलंब बंद करें, अन्यथा उद्देश्यों से भटक चुके पुलिस पदाधिकारी को मर्यादा में रहने हेतू जनता द्वारा कानून का पाठ पढ़ाया जायेगा और बढ़ते जूल्म के विरूद्ध सड़क पर बुद्धजीवियों के सहयोग से पीड़ित परिवार को उतरना पड़ेगा।
बतातें चले कि बिहार प्रदेश के औरंगाबाद जिले के अम्बा थाना में विगत 20 वर्षों से पदेन थानाध्यक्ष व सहायक पुलिस पदाधिकारी (अपवाद को छोड़कर) जनमानस के बीच आतंक बन चुके हैं और वर्दी के आड़ में अपराधकर्मियो को संरक्षण तथा निरीह जनता को सरेआम लूटने का काम करते आ रहे है, आखिर वजह क्या है? इनके कुकृत्यों का समीक्षा पुलिस विभाग के वरीय पदाधिकारी करें अन्यथा कानून को अपने हाँथों में लेकर रिश्वत के लिए आतंक मचाने वाले और मचवाने वाले रिश्वतखोर अधिकारियों को मर्यादा में रहने के लिए कानून का पाठ जनसहयोग से पढ़ाया जायेगा, जिसका नेतृत्व गैर राजनीतिक संगठन भ्रष्टाचार उन्मूलन समिति के पदाधिकारी एवं सदस्यगण करेंगे

Please follow and like us:
%d bloggers like this: