42 डिग्री पहुंचा तापमान,अप्रैल में ही छूट रहे पसीने

रजौली मुखलाय में तापमान 42 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है।ऐसे में अप्रैल के दूसरे सप्ताह में ही गर्मी का प्रकोप जून के बराबर हो गया है।पिछले पांच दशकों के मुकाबले इस बार रिकार्ड गर्मी अप्रैल के दौरान पड़ रही है।जनजीवन बेहद प्रभावित हो रहा है।दोपहर चढ़ते ही रजौली शहर के बाजारों में सन्नाटा पसरने लगा है,जिस कारण व्यापारी भी मायूस दिखाई दे रहे हैं।झुलसा देने वाली गर्मी से अगले दिनों में राहत मिलने की उम्मीद दिखाई नहीं दे रही है।गर्म हवाओं ने लू का अहसास करवा दिया है।
लगातार बढ़ती गर्मी के चलते मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है।शुक्रवार को रजौली का अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस रहा,जबकि गुरुवार को तापमान 43 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की संभावना है।

इस बार सामान्य से 11 डिग्री अधिक तापमान

मौसम विभाग की मानें को इस बार सामान्य तापमान से करीब आठ से ग्यारह डिग्री अधिक तापमान अप्रैल के दूसरे सप्ताह में दर्ज किया गया है,जबकि पहले यह तापमान जून में दर्ज किया जाता रहा है।पिछले दो वर्ष की बात करें तो कोरोना काल में कारखाने,फैक्ट्री,ट्रैफिक बंद होने के कारण तापमान में काफी सुधार हो गया था।प्रदूषण कम होने से तापमान भी कम रहा था, जिस कारण लोगों को अप्रैल में अधिक गर्मी की मार का सामना नहीं करना पड़ा था। इस बार हालात इसके बिल्कुल विपरीत हैं और अप्रैल के पंद्रह दिनों में ही तापमान 42 डिग्री सेल्सियस तक जा पहुंचा है व अगले दिनों में और तापमान चढ़ने की संभालना है।

जनजीवन के लिए घातक बढ़ती गर्मी

अनुमंडल अस्पताल रजौली के चिकित्सक दिलीप कुमार का कहना है कि अप्रैल में बढ़ता लगातार तापमान का ग्राफ जनजीवन के लिए बेहद घातक साबित हो सकता है।गर्मी के कारण लोग अभी से झुलस रहे हैं।ऐसे में जून-जुलाई के दौरान गर्मी का प्रकोप बेहद अधिक होने का अनुमान है।इस बार चिलचिलाती गर्मी के साथ लू का दौर भी आरंभ हो गया है।ऐसे में लोगों को अपने स्वास्थ्य का विशेष तौर पर ध्यान रखना चाहिए।पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन करें व साथ में जूस, लस्सी, दही सहित अन्य पेय पदार्थों के सेवन को तवज्जो दें।धूप में निकलने से परहेज करें व बाहर निकलते समय खुद को ढककर रखें।

नींबू के दाम पेट्रोल-डीजल से भी आगे

गर्मी के मौसम में गर्मी से राहत पाने के लिए नींबू पानी का सेवन करना भी अब आम आदमी की पहुंच से बाहर होता दिखाई दे रहा है।मंडी में नींबू के रेट तीन सौ रुपये के करीब जा पहुंचे हैं।नींबू 320 रुपये किलो तक बिक रहा है,वहीं गर्मी और बढ़ने से नींबू के रेट में भी वृद्धि होने की संभावना जताई जा रही है।कहने को नींबू के रेट पेट्रोल व डीजल के मुकाबले दोगुणा से अधिक हैं। गर्मी के सीजन की सब्जियों के दाम भी आसमान छू रहे हैं।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: