रेहड़ी पटरी संचालक एसोसिएशन ने उच्चतम न्यायालय लिखकर न्याय की मांग की है

दैनिक समाज जागरण

नोएडा रेहड़ी पटरी संचालक वेलफेयर एसोसिएशन ने भारत के सर्वोच्चय न्यायालय से पत्र लिखकर स्वत: संज्ञान लेने के लिए गुहार लगाया है। देश तथा प्रदेश में पथ विक्रेताओं के साथ हो रहे उत्पीड़न और सरकारी अमला के द्वारा भारत सरकार द्वारा निर्मित पथ विक्रेता (आजीविका संरक्षण एवं पथ विक्रेता विनियमन) अधिनियम 2014 के प्रावधानों का खुला उल्लंघन किए जाने को लेकर माननीय न्यायालय को एक पत्र लिखा है जिसमें :-

विषय Su-moto act के तहत हमें न्याय प्रदान करने के संबंध में

महोदय आपको सादर अवगत कराना है कि भारत सरकार द्वारा निर्मित पथ विक्रेता (आजीविका संरक्षण एवं पथ विक्रेता विनियमन) अधिनियम 2014 के प्रावधानों के अनुसार हमें जो अधिकार प्राप्त है उन विषयों का खुला उल्लंघन हो रहा है जिस के संबंध में केंद्रीय शहरी आवास नियोजन मंत्रालय एवं संघ राज्य उत्तर प्रदेश को भी अनेकों पत्रों के माध्यम से अवगत कराते रहे हैं कि निकाय द्वारा ( नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण ) हमारा शोषण किया जा रहा है और हमें हमारे अधिकारों से वांछित किया जा रहा है तथा संविधान के अनुच्छेद 21 का भी खुला उल्लंघन कर रहे हैं जिससे हम अत्यंत दुखी होकर आपसे न्याय की गुहार लगा रहे हैं अतः श्रीमान जी से प्रार्थना है कि लोकतंत्र निष्पक्ष न्याय की व्यवस्था तथा संविधान की मर्यादा का हनन रोकने के लिए उचित एवं आवश्यक कदम उठाए जाने की कृपा करें। आपका भवदीय

प्रार्थी
श्याम किशोर गुप्ता पुत्र श्री राधे श्याम गुप्ता
(महासचिव) रेहड़ी पटरी संचालक वेल्फेयर एसोसिएशन
नोएडा जनपद गौतम बुद्ध नगर |
मोबाईल नं :- 9310063473
ईमेल shyamgupta93100@gmail.com
प्रतिलिपी
1. श्रीमान मा० मुख्य न्यायाधीश महोदय जी
उच्च न्यायालय ,इलाहाबाद उत्तर प्रदेश |
2. श्रीमान मुख्यमंत्री महोदय
उत्तर प्रदेश सरकार |

Please follow and like us:
%d bloggers like this: