भ्रष्टाचार का धंधा बन्द कर नोएडा प्राधिकरण बनाये इमानदार लोगों की वैंडिग जोन कमेटी

दलाली तथा भ्रष्टाचार का धंधा बन्द कर नोएडा विकास प्राधिकरण बनाये इमानदार लोगों की वैंडिग जोन कमेटी——– गणेश यादव

फल एवं सब्जी विक्रेता कल्याण समिति के अध्यक्ष श्री गणेश यादव ने बताया कि सरकार द्वारा पटरी के दुकानदारों की समस्यायों का समाधान करने के उद्देश्य से वैंडर जोन योजना जारी की गई है योजना के नियमों के अनुसार नगर निगमो तथा विकास प्राधिकरणों को पटरी पर दुकान लगाने वाले दुकानदारों की समस्यायों का समाधान करने के लिए पहले एक नगरीय पथ विक्रेता समिति का गठन किया जाना अति आवश्यक है समिति में योजना के नियमों के अनुसार पटरी के दुकानदारों का प्रतिनिधित्व करने वाले प्रत्येक संगठन से एक एक पदाधिकारी तथा सक्षम पथ विक्रेताओं में लोगों को शामिल कर कमेटी का गठन किया जाना निहित है और कमेटी की बैठक कर उसमें ही पटरी के दुकानदारों की समस्यायों का समाधान करने के प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया जाना चाहिए।

परन्तु नोएडा में नोएडा विकास प्राधिकरण में बैठे भ्रष्ट अधिकारियों के द्वारा वैंडर जोन योजना के सभी नियमों को ताख पर रख कर वैंडिग जोन कमेटी का गठन किया गया जिसमें निजी स्वार्थी लोगों को शामिल किया गया जिसका पटरी के दुकानदारों का नेतृत्व करने वाले संगठनों ने विरोध किया और निजी स्वार्थी लोगों को कमेटी से बाहर कर सही लोगों को शामिल करने का अनुरोध किया जिसके कारण नोएडा विकास प्राधिकरण को वैंडिग जोन कमेटी को भंग करना पड़ा तथा नोएडा विकास प्राधिकरण ने आज तक दूसरी सही लोगों की कमेटी नहीं बनाई है नोएडा विकास प्राधिकरण ने दिखावे के लिए वैंडिग जोन कमेटी को भंग किया है परन्तु सच यह है कि नोएडा विकास प्राधिकरण में बैठे भ्रष्ट अधिकारियों के द्वारा भंग की गयी कमेटी के सदस्यों के साथ मिलकर अपनी तानाशाही के बल पर सभी नियमों को ताख पर रख कर पटरी के दुकानदारों का जम कर शौषण किया जा रहा है।

बिना कमेटी के ही नोएडा विकास प्राधिकरण ने वैंडर जोन बनाये है तथा अपनी तानाशाही के बल पर अवैधानिक तरीके से पटरी के दुकानदारों को दुकान देने के लिए ड्रा भी किये है यही नहीं नोएडा विकास प्राधिकरण अभी भी भंग की गयी कमेटी के सदस्यों के द्वारा ही पंजीकरण से छुटे हुए पटरी के दुकानदारों के आवेदन फार्म भरवाये जा रहे हैं और आवेदन फार्मो का सत्यापन भी भंग की गयी कमेटी के सदस्यों से ही करवाया जा रहा है। उन्हीं की मोहर लगवायी जा रही है कमेटी के सदस्यों के द्वारा अपने चहेतों के फार्म भरे जाते है अन्य पटरी के दुकानदारों को आवेदन फार्म भी नहीं दिया जाता है।

इस तरह नोएडा विकास प्राधिकरण भंग की गयी कमेटी के फर्जी सदस्यों के साथ मिलकर पटरी के दुकानदारों का जम कर शौषण कर रहे हैं दलाली कर रहे हैं और सरकार को बदनाम करने का काम किया जा रहा है जिसे रोका जाना अति आवश्यक है सरकार से मांग करते हैं कि भंग की गयी कमेटी के जो सदस्य आज भी अपने आप को वैडिग जोन कमेटी का सदस्य बन कर भ्रष्टाचार मचाये हुए हैं उन्हें उनके भ्रष्ट आकाओ को गिरफ्तार किया जाये और उन पर भ्रष्टाचार और धारा 420 के केस दर्ज कर कानूनी कार्यवाही की जाये और नोएडा विकास प्राधिकरण एवं फर्जी वैंडिग जोन कमेटी के सदस्यों के द्वारा किए गए सभी कार्य निरस्त किये जाये तथा जल्द से जल्द नयी नगरीय पथ विक्रेता समिति का गठन किया जाये और कमेटी में पटरी पर दुकान लगाने वाले दुकानदारों का प्रतिनिधित्व करने वाले सभी संगठनों से एक एक पदाधिकारी तथा सक्षम पथ विक्रेताओं को भी कमेटी में शामिल किया जाये और नियमानुसार पटरी के दुकानदारों की समस्यायों का समाधान किया जाये

Please follow and like us:
%d bloggers like this: