भारत-नेपाल की सीमा पर एसएसबी एवं वन विभाग ने लगाई गस्त।

समाज जागरण
बेतिया जिला ब्यूरो
बगहा के संवेदनशील क्षेत्र गंडक बराज से सटे भारत व नेपाल की सीमावर्ती वन क्षेत्रों में एसएसबी और वनकर्मियों ने मिलकर गस्त लगाई। यह गस्त होली एवं शब-ए-बारात के मद्देजनर लगाई गई ताकि होली के मौके पर किसी भी प्रकार की असामाजिक मतभेद एवं अप्रासंगिकता की संभावना को रोका जा सके।
बिहार और नेपाल का सटा हुआ भारत-नेपाल सीमा का यह क्षेत्र अति संवेदनशील माना जाता है । बगहा के गंडक बराज और 6 नम्बर ठोकर चुलभट्टा वाले रास्ते से ही भारत मे शराब या अन्य मादक पदार्थों का प्रवाह होता है। इन रास्तों से ही अस्वीकृत शराब एवं नशीली पदार्थों को लाये ले जाने की गुंजाइश रहती है। इन्ही सब चीजों पर अंकुश लगाने हेतु साझा गश्त की जा रही है। इसी रास्ते का प्रयोग करके ज्यादातर वन तस्करों का गिरोह वन-संपदा की तस्करी को अंजाम देने की फिराक में लगे रहते है। बराज के पास स्थित एसएसबी की 21वीं वाहिनी के कमांडर काली दास ने बताया कि हमारे जवान 24 घंटे वांछितों पर पैनी नज़र बनाए हुए हैं । किसी भी की गतिविधियों पर लगाम लगाने के लिए दूसरे सुरक्षा एजेंसियों से सामंजस्य स्थापित कर साझा गश्त लगा रहे हैं। किसी भी गड़बड़ी की आशंका होने पर ऐसे लोगों के मंसूबों को नाकाम किया जा सकेगा।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: