1 सितंबर 2022 से यूडीआईडी कार्ड के माध्यम से दिव्यांगजनों को मिलेगा योजनाओं और सेवाओं का लाभ

1 सितंबर 2022 से यूडीआईडी कार्ड के माध्यम से दिव्यांगजनों को मिलेगा योजनाओं और सेवाओं का लाभ
उपायुक्त ने 31 अगस्त 2022 तक सभी दिव्यांगजनों के यूडीआईडी कार्ड बनाने के दिए निर्देश
हिसार (राजेश सलूजा)

उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी ने कहा कि सरकार द्वारा क्रियान्वित की जा रही योजनाओं का लाभ दिव्यांगजनों को यूडीआईडी कार्ड (यूनिक डिसेबिलिटी पहचान पत्र) के माध्यम से दिया जाएगा। उन्होंने जिले के सभी दिव्यांगजनों के यूडीआईडी कार्ड बनवाने के लिए जिला समाज कल्याण अधिकारी इंद्रा यादव को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं।
वे सोमवार को लघु सचिवालय परिसर स्थित जिला सभागार में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक ले रही थी। उन्होंने कहा कि दिव्यांगजनों को केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ 1 सितंबर 2022 से यूनिक डिसेबिलिटी पहचान पत्र यानी यूडीआईडी कार्ड के माध्यम से दिया जाएगा, ताकि उन्हें योजनाओं और सेवाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर न काटने पड़े। इस दिशा में भारत सरकार द्वारा दिव्यांगजनों को दिए जाने वाले विभिन्न लाभ को 31 अगस्त 2022 तक यूडीआईडी कार्ड से जोड़े जाने की तिथि निर्धारित की गई है।
उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी ने बताया कि सिविल अस्पताल में दिव्यांगजनों के यूडीआईडी कार्ड बनाए जा रहे हैं। यूडीआईडी कार्ड बनवाने के लिए दिव्यांगजन प्रमाण पत्र आधार कार्ड तथा दो पासपोर्ट फोटो लेकर आना सुनिश्चित करें। उन्होंने जिले के सभी एसडीएम को भी निर्देश दिए हैं कि वे अपने अधीनस्थ क्षेत्रों में दिव्यांगजनों को यूडीआईडी कार्ड बनवाने के लिए प्रेरित करें।
इस अवसर पर हिसार के एसडीएम अश्वीर नैन, बरवाला के एसडीएम राजेंद्र कुमार, नारनौंद के एसडीएम विकास यादव, हांसी के एसडीएम डॉ जितेंद्र सिंह अहलावत, नगराधीश विजया मलिक, सीईओ जिला परिषद कुलभूषण बंसल, सीएमजीजीए अनुष्का मिश्रा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: