सीइंग इज बिलीविंग एवं मिशन ज्योत कार्यक्रम के अंतर्गत 30लाख नेत्र रोगी होंगे लाभान्वित*

*
समाज जागरण ब्यूरो चीफ संजय मिश्रा चित्रकूट
सीइंग इज बिलीविंग एवं मिशन ज्योत कार्यक्रम के अंतर्गत श्री सदगुरू सेवा संघ ट्रस्ट जानकीकुंड चित्रकूट, स्टैण्डर्ड चार्टेड बैंक एवं मिशन फ़ॉर विज़न के संयुक्त प्रयास से उत्तर प्रदेश के प्रयागराज मंडल में (प्रयागराज-2, प्रतापगढ़-8 एवं
कौशाम्बी-5) 15 नेत्र जांच केंद्र खोलने की योजना है।जिसके चलते कुंड प्रतापगढ़ में नेत्र जाँच का शुभारंभ किया गया।उक्त कार्यक्रम के अंतर्गत लगभग 30 लाख लोगों को नेत्र सेवा प्रदान की जाएगी। नेत्र जांच केंद्रों में कुशल एवं प्रशिक्षित नेत्र सहायक एवं प्रशिक्षित महिला स्वास्थ्य नेत्र मित्र उपलब्ध रहेंगे एवं नेत्र सेवाएं सबके लिए सुलभ रहेगी।
इस अवसर पर स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक के प्रमुख करुणा भाठिया ने बताया है कि उपरोक्त कार्यक्रम के तहत गरीब एवं मध्यम वर्ग को अंधत्व से बचाया जा सकेगा। उन्होंने यह भी बताया है कि अभी तक भारत के 22 राज्यों में 265 नेत्र जांच केंद्र स्थापित कर लगभग 1 करोड़ 40 लाख लोगो को नेत्र सेवायें उपलब्ध कराई गई है।मिशन फ़ॉर विज़न के संस्थापक जगदीश एम चनराई ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा है कि इस कार्यक्रम के सहयोग के लिए स्टैण्डर्ड चार्टेड बैंक का आभार व्यक्त किया। और उन्होंने बताया कि यदि समय से नेत्र सेवायें उपलब्ध हो जाये तो व्यक्ति के जीवन मे निश्चितरूप से बदलाव लाया जा सकता है। उन्होंने यह भी बताया है कि इस कोविड के समय मे आंखों की सेवायें करने में अनेकों चुनौतियों का सामना करना पड़ा। इन चुनौतियों का सामना करने के लिए हमारे साथ श्री सदगुरू सेवा संघ ट्रस्ट ने लगातार प्रयास किया जिससे की लोगो तक नेत्र जांच सुविधाएं पहुंच सकी जिससेअधिक से अधिक लोगो को लाभ मिला।शुभारंभ के शुभ अवसर पर श्री सदगुरू सेवा संघ ट्रस्ट जानकीकुंड चित्रकूट के निदेशक एवं ट्रस्टी डॉ बी के जैन ने बताया कि हमारे एवं प्रयागराज मंडल के लिए यह गर्व का पल है। उन्होंने इस कार्यक्रम से जुड़े स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक एवं मिशन फ़ॉर विज़न का हृदय से आभार व्यक्त किया। उन्होंने यह भी कहा की इस कार्यक्रम के माध्यम से हम अपनी नेत्र जांच की सेवायें और बेहतर तरीके से समुदाय के जरूरतमंद लोगों तक पहुंचा सकेंगे।जानकीकुंड चित्रकूट द्वारा संचालित सद्गुरु नेत्र जांच केंद्र कुंडा में आंख से संबंधित हर प्रकार की बीमारी की प्रारंभिक जांच एवं उपचार की सुविधा उपलब्ध रहेगी एवं मोतियाबिंद के ऑपरेशन हेतु चित्रकूट जाने एवं आने के लिए एम्बुलेंस की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी। इसके अतिरिक्त 10 फरवरी 2022 को ही सद्गुरु नेत्र जांच केंद्र कुण्डा के साथ-साथ कौशाम्बी जिले के मंझनपुर, सिराथू एवं भरवारी(मूरतगंज) में नेत्र जांच केंद्र की सेवायें भी भव्य शुभारंभ के साथ प्रारंभ की गई।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: