साहब की ही गाड़ी रोक मांगने लगा न्योछावर : सिविल ड्रेस में SP को नहीं पहचान पाया दारोगा, लोगों को याद आया ‘गंगाजल’ का सीन।

शेखपुरा (ए. स.)खबर शेखपुरा से है जहां अवैध वसूली करने में लगा पुलिस का सहायक अवर निरीक्षक जिले के पुलिस विभाग के मुखिया से ही न्योछावर मांगने लगा। दरअसल लगातार मिल रही रिश्वतखोरी की शिकायत पर SP साहेब खुद ही सिविल ड्रेस में बाइक पर सवार होकर इलाके में भ्रमण पर निकले थे। तभी बीच रास्ते पर उनकी गाड़ी रोक कर दारोगा अपनी वर्दी की धमक दिखने लगा। जब SP ने उससे जाने देने की विनती की तो दारोगा भड़क गया और कहने लगा कि बिना कुछ माल दिए यहाँ से परिंदा भी पर नहीं मार सकता। लेकिन जैसे ही दारोगा को पता लगा कि बाइक पर बैठा आदमी कोई आम आदमी नहीं खुद जिले के SP हैं तो उसके हाथपांव फूलने लगे। वहीँ मौके पर मौजूद लोगों को यह नजारा देख बॉलीवुड की फिल्म ‘गंगाजल’ का सीन याद आ गया।
बता दें कि SP कार्तिकेय के शर्मा ने इस कार्रवाई की जानकारी देते हुए बताया कि कसार थाने में प्रतिनियुक्त सहायक अवर निरीक्षक रणवीर प्रसाद को वाहनों से अवैध वसूली के मामले में निलंबित कर दिया गया है। उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही भी शुरू की जा रही है। SP ने बताया कि चांदी पहाड़ से पत्थर और डस्ट लेकर निकलने वाले वाहनों से यह कनीय पुलिस अफसर अवैध वसूली करता था। रणवीर प्रसाद के बारे में लोग बताते हैं रास्ते में बाइक से आने-जाने वालों को भी वर्दी का रौब दिखाकर 100-50 झटक लेते थे।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: