fbpx

जापान अमेरिका से आगे क्यों है ? और भारत पीछे क्यों है ?

जापान के लोग कभी भी अमेरिका के विरुद्ध नारेबाजी क्यों नहीं करते हैं? जबकि अमेरिका ही वो देश है जिसने जापान के विरुद्ध एटम बम गिराया था किन्तु इस पर भी हमने कभी जापान की सडकों पर अमेरिका के विरोध में कोई रैली, जुलुस नहीं सुने, और ना ही कभी “अमेरिका” मुर्दाबाद कहते हुए सुना होगा ।
.
जब ये प्रश्न एक जापानी से पूछा गया तो उसने कहा “मात्र नारेबाज़ी करना और अपने ही देश में अपने शत्रु का विरोध कर दंगा फसाद करना उन कमज़ोर कौमों की पहचान है जो वास्तव में कुछ नहीं करना चाहते । आज अमेरिका के राष्ट्रपति के ऑफिस में “मेड इन जापान” पेनासोनिक टेलीफोन और सोनी टेलीविज़न रखा हुआ है, यही हमारी अमेरिका के विरुद्ध जीत भी है और प्रतिशोध भी……”
.
प्रतिशोध लेने का और अपनी सफलता को प्रदर्शित करने का यही उचित उपाय भी है।
.
भारत माता है
जापान देश हे
.
फिर भी राष्ट्रवाद में हमसे आगे हैं वो, इसका मतलब हुआ हम माँ के भी सगे नहीं ।
.
भारत को छोड़ संसार का कोई देश, गाय, गीता, गंगा, वेद, सरस्वती, गायत्री, धरती, देश को माता नहीं कहता, अकेला भारत कहता है और इसी देश में इन माताओं की दुर्गति अपने चरम पर है….

Please follow and like us:
%d bloggers like this: