fbpx

राजस्थान गुर्जर आन्दोलन: सरकारी 💺मशीनरी हाई अलर्ट मोड पर, दौसा में अर्द्धसैनिक बलों 👮की 7 कंपनी पहुंचीं

राजस्थान गुर्जर आन्दोलन: सरकारी 💺मशीनरी हाई अलर्ट मोड पर, दौसा में अर्द्धसैनिक बलों 👮की 7 कंपनी पहुंचीं

राजस्थान में 5 प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर समाज का आंदोलन सोमवार को चौथे दिन भी जारी है। रविवार को धौलपुर में आंदोलनरत लोगों के हिंसक होने और हवाई फायरिंग के बाद सरकार ने कई इलाकों में शांति व्यवस्था का जिम्मा अर्द्धसैनिक बलों को सौंपने की तैयारी कर ली है। दौसा में अर्द्धसैनिक बलों की सात कंपनियां तैनात की जा रही है और अन्य संवेदनशील इलाकों में भी अर्द्धसैनिक बल भेजने की तैयारी है।

आंदोलनरत गुर्जरों ने रेल मार्ग के बाद सड़क मार्ग भी बाधित करते हुए चार राजमार्गों पर जाम लगा दिया। आंदोलनकारियों ने आगरा-बीकानेर नेशनल हाइवे एनएच-21 पर सिकंदरा चौराहा जाम लगा दिया है। नागौर में भी गुर्जर आंदोलन ने जोर पकड़ लिया है। नागौर-अजमेर बॉर्डर पर आंदोलनरत लोगों ने जाम लगा दिया। आन्दोलन के कारण दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग चार दिन से है बाधित। कोटा रेल मंडल ने 12 फरवरी की 6 प्रमुख ट्रेनों को रद्द किया। सोमवार को मंगलवार की 6 ट्रेनों को आंशिक रूप से रद्द किया है।

करौली प्रशासन ने कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के हिंडौन सिटी स्थित आवास पर न्यायालय के आदेशों की पालना का नोटिस चस्पा करवाया है। गुर्जर आंदोलन के चलते प्रदेश में उपजे हालात के मद्देनजर सरकारी मशीनरी पूरी तरह से हाई अलर्ट मोड पर है। वहीं उधर, उग्र हुए आंदोलन के बाद दौसा, भरतपुर, धौलपुर, सवाई माधोपुर और करौली में धारा 144 लागू की गई है।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: