क्षत्रिय समाज को एक मंच पर लाना ही हमारा उद्धेश्य है- हरिहर रघुवंशी

नई दिल्ली – 1 नम्बर 21, क्षत्रिय समाज को एक मंच पर लाना ही आज के समय की माँग है।क्षत्रिय समाज हमेशा ही समाज व राष्ट्र की रक्षा और सुरक्षा के लिए हमेशा तैयार रहता है। क्षत्रियो का इतिहास गौरव शाली था है और रहेगा । क्षत्रिय की पहचान त्याग व तपस्या की मुर्ति रही है। इतिहास गवाह है। आज क्षत्रिय समाज को उनके योग्यता व कार्य क्षमता के आधार पर प्रतिनिधित्व नही मिल रहा है। चाहे वह राजनीति हो या समाज सेवा का क्षेत्र हो ‘ क्योकि आज क्षत्रिय समाज मे एकता की कमी है। वह विभिन्न संस्थाओ ‘ राजनीति दलो के कुटिल चाल के चक्रव्यूह मे फॅसा है।

आज आवश्यकता है कि क्षत्रिय समाज को आपसी भेद भाव को भुला कर अपनी योग्यता व शक्ति का प्रर्दशन करे ‘ ताकि सरकार व समाज को उनकी आवाज पहुॅचे । जो देश की दिशा व दशा दे सके । उपरोक्त विचार विगत रविवार को हिन्दी भवन विष्णु दिगम्बर मार्ग दिल्ली में द्वितीय स्थापना दिवस ‘ दिवाली मंगल मिलन एवं दूरभाष निर्देशिका सह-डायरी के विमोचन का कार्यक्रम के सुअवसर पर कहा! ज्ञातव्य रहे कि भानु प्रताप सिंह- (संस्थापक), है । इस कार्यक्रम मेजग नारायण सिंह -डी. के. सिंह,शमनीन सिंह गहरवार-( सभी विशिष्ट अतिथि) हरिहर रघुवंशी- (दिल्ली प्रदेश मीडिया प्रभारी बीजेपी), सुभाष सिंह-प्रमुख कार्यवाहक,जितेंद्र सिंह- मुख्य कार्यवाहक (वित्त) , श्री नीरज सिंह कश्यप- मुख्य कार्यवाहक (मुख्यालय),प्रदीप कुमार सिंह-मुख्य कार्यवाहक (सांस्कृतिक),ठाकुर राम सिंह (मंच संचालक) , डिंपल सिंह, दिल्ली उत्तर प्रदेश तथा देश के विभिन्न क्षेत्रों से राजपुत संगठन के पदाधिकारीयों ने बड़ी कार्यक्रम में भाग लिया!

Please follow and like us:
%d bloggers like this: