लोगों की ऐसी लापरवाही से जनपद में कोरोना महामारी का संकट पैदा हो सकता है

लोगों की ऐसी लापरवाही से जनपद में कोरोना महामारी का संकट पैदा हो सकता है
सरकार की कोरोना गाइड लाइन से प्रशासन भी दिख रहा अनभिज्ञ
अतुल चतुर्वेदी समाज जागरण बबेरू तहसील संवाददाता बांदा
एक तरफ कोरोना महामारी की तीसरी लहर के बढ़ते हुए संक्रमण से शासन प्रशासन की नींद उड़ी है वही जनपद बांदा के कमासिन ब्लॉक के जमरेही नाथ मंदिर में मकर संक्रांति के पावन पर्व शंकर जी की पूजा करने हेतु अपार दर्शनार्थियों की भीड़ जमा हुई हजारों की भीड़ में लोगों के पास न मास और ना ही 2 गज की दूरी इन तस्वीरों से स्पष्ट होता है जनता को कोरोना महामारी की तीसरी लहर का जरा भी भय नहीं है जबकि जिले में ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश में हर दिन के कोरोना संक्रमण के आंकड़े तेजी के साथ बढ़ रहे हैं जिससे केंद्र और राज्य सरकारें भी काफी चिंतित हैं और जनता की रक्षा के लिए सरकारों द्वारा प्रतिदिन नई गाइडलाइन जारी कर शासन और प्रशासन को सख्त निर्देश दिए जाते हैं की जनता के बीच गाइडलाइन का उपयोग हर परिस्थितियों में कराया जाए लेकिन बांदा जनपद में प्रशासन भी महामारी से अनजान बना दिखाई दे रहा है क्योंकि शंकर जी का यह मंदिर कमासिन थाने से मात्र 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और यह जानते हुए भी की मकर संक्रांति में प्रसिद्ध शंकर जी के मंदिर में अपार भीड़ इकट्ठा होती है इसके बावजूद भी मंदिर परिसर में प्रशासन के नाम पर एक होमगार्ड भी मौजूद नहीं था प्रशासन की ऐसी अनदेखी देश प्रदेश और जिले में कोरोना महामारी का संकट पैदा कर सकती है

Please follow and like us:
%d bloggers like this: