ओलम्पिक खिलाड़ी ने खोल दिया केजरीवाल के पोल, सिर्फ पोस्टर लगवाया कोई सहायता नही किया

केजरीवाल सरकार का खुला पोल, ओलम्पिक खिलाड़ी नें कहा, केजरीवाल सिर्फ हमारे पोस्टर लगाते है और विज्ञान करते है लेकिन तैयारी में किसी भी प्रकार के मदद नही करते है। दिल्ली सरकार नें टोक्यों ओलम्पिक में भाग लेने वाले राज्य के पाँच एथलीट के बैनर लगाकर विज्ञापन तो कर दिया है, जैसा कि केजरीवाल सरकार करता ही रहता है। लेकिन एथलीट का दावा है कि सरकार नें उन्हें ओलम्पिक की तैयारी के लिए कभी आर्थिक मदद नही दी। टेबल टेनिस स्टार मनिका बत्रा, निशानेबाज दीपक कुमार, और 400 मीटर दौड़ के दो धावक अमोज जैकब और सार्थक भांवरी के बड़े बैनर पूरे दिल्ली में लगाए है। खिलाड़ी का कहना है कि यह बैनर सिर्फ सरकार के कमियो को ढकने के लिए है।

एक अखबार में प्रकाशित खबर में 22 वर्षीय भांबरी नें कहा है कि मै आपको बता सकता हूँ कि दिल्ली सरकार नें कभी भी मेरी मदद नही की। पोस्टर लगाए गए है ‘दिल्ली बोले जीत के आना’ लेकिन ये नही बताया है कि कैसे जीत के आना ? ओलम्पिक के लिए पोस्टर पर करोड़ो रूपये की बर्बादी करने वाली दिल्ली सरकार अगर ओलम्पिक जाने के कुछ महीने पहले उनको कुछ सहायता करती। जितना विज्ञापन पर खर्च किया है उसका सिर्फ 10-15 प्रतिशत खर्च कर दिया होता तो हम उस राशी का उपयोग तैयारी में कर सकता था। लेकिन यहाँ तो विज्ञापन से ही सरकार को फुर्सत नही है। दिल्ली सरकार एथलीटों के सहायता के लिए एक मिशन उत्कृष्टता योजना चला रही है। हमे अभी तक इस योजना का लाभ भी नही मिला। वही दिल्ली सरकार के खेल विभाग से बात करने की कोशिश हुई मगर कोई सहायता नही मिला।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: