नोएडा विश्व हिंदू परिषद की मांग: पाक परस्त नारे लगाने वालों पर लगे देशद्रोह का धारा

नोएडा समाज जागरण

पाकिस्तान परस्तोंं पर देशद्रोही का मुकदमा चलाने की मांग। नोएडा सेक्टर 8 में 19 अक्टूबर को ईद-उल-मिलाद में लगे थे पाकिस्तान जिंदाबाद की नारे। पुलिस नें धार्मिक भावना को भड़काने वाली धारा में किया केस दर्ज।। मामला धार्मिक नें देशद्रोह का है इसलिए अपराधियों पर देशद्रोह का मुकदमा चलाने की मांग। विश्व हिंदू परिषद नें 2 दिन का दिया है समय। कार्यवाही नही होने पर उतरेंगे सड़क पर करेंगे आंदोलन। विजय भारत पार्टी ने मांग का किया है समर्थन। देशद्रोहियों पर सख्त कार्यवाही की मांग।

19 अक्टूबर 2021 में ईद उल मिलाद के मौके पर कुछ पाक परस्त देश विरोधी ताकतों ने हिंदुस्तान विरोधी व पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए थे। इसकी शिकायत स्थानीय प्रशासन को उसी समय कर दी गई थी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्रीमान योगी आदित्यनाथ को व डीजीपी उत्तर प्रदेश को भी ट्वीट द्वारा जानकारी दे दी गई थी। लेकिन आज लगभग 6 दिन गुजर जाने के बाद भी अपराधियों के विरुद्ध कोई खास कार्यवाही नहीं हुई। यहां तक की केस को और शिथिल कर दिया गया है।

अपराध की जिन धाराओं में मुकदमा पंजीकृत होना चाहिए था उसमें पंजीकृत न करके सामान्य धार्मिक सौहार्द बिगाड़ने की धाराओं में अभियोग पंजीकृत किया गया है। जबकि इसके अंतर्गत देशद्रोह की धाराओं में अभियोग पंजीकृत किया जाना चाहिए था। 8 दिनों में अपराधियों के विरुद्ध कोई खास कार्रवाई नहीं हुई है । इसको लेकर विश्व हिंदू परिषद के वरिष्ठ प्रचारकों व संगठन मंत्रियों के साथ में भी 22 तारीख को एक बड़ी बैठक की गई थी। जिसमें उन्होंने 26 अक्टुबर 2021 को पत्रकार वार्ता के लिए निर्देशित किया था कि अगर इस प्रकरण में पुलिस द्वारा यथोचित कार्रवाई नहीं होती तो पत्रकार वार्ता करके आगे की रणनीति के लिए योजनाएं बनाएं।

विश्व हिंदू परिषद नें मांग किया है कि पाकिस्तान परस्त नारे लगाने वालों पर धार्मिक भावना भड़काने की नही बल्कि देशद्रोह का मुकदमा पंजीकृत किया जाना चाहिए। उस कार्यक्रम में लगभग 200 से ज्यादा लोगों शामिल था, जिसमें से 35 लोगों की सूची स्थानीय लोगों के द्वारा उपलब्ध करा दिया गया है लेकिन अभी तक सिर्फ 3 को गिरफ्तार किया गया है। इस कार्यक्रम के सुरक्षा में 2 एसएसओ व स्थानीय पुलिस के सब-इंस्पेक्टर व पीएसी की व्यवस्था की गई इसके बावजूद भी वहाँ पर देशी विरोधी नारे लगे। लेकिन कार्यवाही करने के नाम पर पुलिस टालमटोल करती रही। जब विश्व हिंदू परिषद और दूसरे संगठन के लोगों नें पुलिस पर दबाव बनाया तब जाकर 3 गिरफ्तारी हुई है वह भी मामूली धाराओं में।

विश्व हिंदू परिषद के लोगों नें मांग किया है कि सुरक्षा में तैनात अधिकारियों पर उनके संवेदनशीलता को देखते हुए कार्यवाही होनी चाहिए। इस क्षेत्र में ऐसे घटना पहले भी घटित होती रही है और पुलिस के द्वारा दंडित करने के बजाय उनको पराश्रय देने का काम किया गया।

श्री विवेक कमलाकांत मिश्रा मंत्री विश्व हिंदू परिषद नॉएडा महानगर नें कहा है कि यह धार्मिक नही बल्कि देश द्रोह है इसलिए देशद्रोह के मामले भारतीय दंड संहिता 124 ए के तहत मुकदमा पंजीकृत होना चाहिए, और उन पर जल्दी से जल्दी कार्यवाही होनी चाहिए। उन्होनें कहा है कि अगर गौतमबुद्धनगर पुलिस 2 दिनों के अंदर में सेक्टर 8 में हुए देशद्रोह के घटना में शामिल अपराधियों पर संविधान की धारा 124 ए के तहत कार्यवाही नही की तो विश्व हिंदू परिषद. बजरंग दल, व अन्य सभी राष्ट्रवादी समाज आंदोलन की राह पर सड़को पर होगा। इसकी जिम्मेदारी स्थानयी पुलिस प्रशासन की होगी।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: