नोएडा सेक्टर 82 : फुट-पाथ पर अतिक्रमण, साईन बोर्ड भी छिपा पीछे

नोएडा समाज जागरण

नोएडा में अतिक्रमण कोई नई बात तो नही है लेकिन यह एक नया मामला है क्योंकि यहाँ पर साईन बोर्ड अतिक्रमण के पीछे छुपा हुआ है। साईन बोर्ड इसलिए लगाए जाते है ताकी लोगों को सुविधा हो लेकिन अतिक्रमण के ब्यार नें इसे अपने आगोश में ले लिया है। वाहन चालक को दूर से क्या पास से जाकर देखने पर नही पता नही चलता है।

नोएडा सेक्टर 82 रेड लाईट से 150 मीटर की दूरी पर एक साईन बोर्ड लगाया गया है ताकि किसी भी वाहन चालक को दूर से दिखाई दे और अपना मार्ग निर्धारित करे कि उसे जाना कहा है। लेकिन यहाँ पर फल वालों की 5×5 मीटर की 3-4 दुकान लगी है जिसके कारण यह दूर से दिखाई नही देता है। हालांकि जहाँ पर यह बड़ी बड़ी दुकान लगी है वहाँ पर कोई भी बोर्ड वेंडिंग जोन की नही लगी है, लेकिन फिर यह स्थायी दुकान बिना किसी रुकावट के सालों से चलते आ रहे है। भले ही पुलिस और प्राधिकरण के लोग वहाँ से 100 मीटर दूर खड़ी ठेली वालों को डंडा मार के भगा देते है। जबकि चलती फिरती दुकान से ज्यादा अतिक्रमण नही होते है और नही तो कोई साईन बोर्ड ढकते है, जिससे किसी को परेशानी हो। स्थायी रूप से तिरपाल टंगा हुआ है जिसके कारण साईन बोर्ड भी ढक चुका है।

यहा से 50 मीटर की दूरी पर सेक्टर 110 की पुलिस चौकी है। यातायात पुलिस भी सुबह से शाम तक 82 के रेल लाईट पर रहते है। इसके बावजूद भी .यहाँ पर स्थायी अतिक्रमण किया गया है। धीरे-धीरे यहाँ पर दुकान बढते ही जा रहे है। पथ विक्रेता अधिनियम के अनुसार किसी भी मोड़ से 100 मीटर की दूरी दुकान लग सकती है वह भी अस्थायी। उसके बाद काली सड़क से हटके और फुट-पाथ पर भी अतिक्रमण न हो। ताकि किसी को चलने में दिक्कत का सामना न करना पड़े। लेकिन यह तो नोएडा है, यह कोई नया नही है।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: