नोएडा : वेंडिंग जोन में अवैध कब्जा और अवैध वेंडिंग जोन की 3 दिन में सूचना दे सर्किल आफिसर

नोएडा 20 अगस्त 2021 समाज जागरण (वतनकीआवाज)

नोएडा वेंडिंंग जोन के लेकर लगतार मिल रहे शिकायत के बाद विशेषाधिकारी नें वर्क सर्किल 4 और वर्क सर्किल 3 का किया निरीक्षण। अधिकारी को बड़ी तादाद में अतिक्रमण तथा अनिमियता मिलने के बाद सभी सर्किल आफिसर को 3 दिनों के अन्दर अतिक्रमण हटाने और रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है। निरीक्षण के दौरान अवर अभियंता पर पैसे लेकर वेडिंग जोन में बिना लाईसेंस वाले वेंडर को दुकान देने का आरोप लगा है।

लगातार मिल रहे अनिमियता और धांधली के खबर के बाद विशेष अधिकारी के द्वारा नोएडा के वर्क सर्किल 4 और वर्क सर्किल 3 का दौरा किया गया। इस दौरान बड़ी मात्रा मेे सर्किल के वेंडिंग जोन से शिकायत प्राप्त हुआ है। दिनांक 19 अगस्त को किये गये दौरे के बाद अधिकारी नें सभी सर्किल आफिसर को अतिक्रमण हटाने और सही वेंडर को व्यवस्थित करने के आदेश दिया। इसके साथ ही 3 दिनों के अन्दर रिपोर्ट देने के लिए सभी सर्किल आफिसर आदेशित किया गया है।

वर्क सर्किल 4 में सेक्टर 62 में पूराने प्लेटफार्म के सामने खोड़ा जाने वाली रोड की पटरी पर कई दुकानें एक लाईन से लगती है। जिसका ड्रा भी दिसंबर 2020 में हो चुका है।लेकिन शिकायत ये है कि अवर अभियंता श्री सौरभ द्वारा वेंडरों के कागजात अपने पास रखे हुये है और न ही उनकी फीस जमा करायी और न ही उनको वेंडिंग जोन में शिफ्ट किया गया।

इसी प्रकार सेक्टर 62 में ही बाबा बालकनाथ मंदिर के पास निरीक्षण के दौरान वेंडिंग जोन चलता पाया गया। जबकि न तो उसका निर्धारण किया गया है और न ही तो किसी को वहाँ बिठाया गया है। यहाँ तक की उनके फार्म भी नही भरवाया गया है। यहाँ पर सबसे बड़ी समस्या यह सारी दुकानें मंदिर से सटी हुयी है और इसमें से कुछ दुकान नान वेज की बिक्री भी करता पाया गया जो कि बिल्कुल अनुचित है।
यहाँ पर कुछ लोगों नें तो यह भी आरोप लगाया है कि अवर अभियंता के द्वारा पैसे लेकर लोगों के बिठाया गया है। निरीक्षण के समय भी कुछ लोगों ने बाबा बालकनाथ मंदिर के पास वाले प्राधिकरण के जमीन पर झुग्गी डालने की शिकायते मिली है।

इसी प्रकार वर्क सर्किल -3 में सेक्टर 34 मेट्रो स्टेशन के पास नाले के किनारे फल और सब्जी की बहुत बड़ी बाजार लग रही है। जबकि वहाँ पर कोई भी वेंडिंग जोन नही है। यहाँ पर समान बेचने के लिए किसी को लाईसेंस भी नही दिया गया है। विशेषाधिकारी नें सभी वर्क सर्किल आफिसर को पत्र लिखकर अतिक्रमण हटाने और 3 दिनों के अन्दर सूचना देने के लिए कहा है।

विशेष अधिकारी आई पी सिंह ने कहा है कि यह स्थिति उचित नही है। भविष्य में अगर इस प्रकार की अवैध मार्केट लगता मिलता है या पाये जायेंगे तो सर्किल सर्किल आफिसर को जिम्मेदार मानते हुए उच्च अधिकारी को कार्यवाही करने हेतू रिपोर्ट प्रेषित कर दी जायेगी।
बता दे कि इससे पहले भी नोएडा प्राधिकरण के सीओ नें सर्किल आफिसर को चेतावनी दी थी जिस वर्क सर्किल में अतिक्रमण पाये जायेंगे उस सर्किल आफिसर के विरुद्ध कार्यवाही की जायेगी। लेकिन यह बताना उचित होगा कि किसी भी सर्किल में अतिक्रमण हटाना तो क्या हिला डुला भी नही है। वर्क सर्किल 3 मे सोमबाजार में पार्के से लेकर कर्नल मार्किट और सदरपुर बिजली घर तक पूरा अतिक्रमण रहता है।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: