अग्निक बहाली की परीक्षा में धराया मुन्ना भाई, मोबाइल के साथ तीन गिरफ्तार।

नवादा (आर्यन मोहन) नवादा नगर के 22 केंद्रों पर रविवार को केंद्रीय चयन पर्षद द्वारा अग्निक पद पर बहाली के लिए आयोजित दो पालियों में लिखित परीक्षा के दौरान अजब-गजब की तस्वीरें सामने आई। उच्च विद्यालय केंदुआ केंद्र से दूसरे के बदले परीक्षा देने का प्रयास करते एक मुन्ना भाई को पकड़ा गया। सिरदला के शुभम कुमार को गिरफ्तार किया गया है। केंद्राधीक्षक की भूमिका भी संदिग्ध मिली है। इसके अलावा तीन अलग-अलग केंद्रों से मोबाइल के साथ तीन परीक्षार्थियों को पकड़ा गया। ज्ञान भारती स्कूल से कमल नयन, एसकेएम काॅलेज से नीतीश कुमार और केएलएस काॅलेज केंद्र से प्रियंका कुमारी को पकड़ा गया। सभी को नगर थाना पुलिस के हवाले कर दिया गया।
मुन्ना भाई का वाट्सएप देख दंग रह गए अधिकारी_
– शुभम कुमार से बरामद मोबाइल की जांच में वाट्सएप चैटिंग देख अधिकारी दंग रह गए। जिस प्रकार के संदेशों का आदान-प्रदान किया गया था, उससे साफ हो रहा था कि वह किसी गिरोह से जुड़ा है। सिरदला के भोला यादव नामक शख्स से भी परीक्षा में सेटिंग को लेकर संदेशों का आदान-प्रदान हुआ था।
सुभाष की हो रही तलाश_
– वाट्सएप चैटिंग में शुभम ने एक सुभाष नामक शख्स की चर्चा की है। सिरदला के भोला से पूरी चैटिंग के दौरान उसे सुभाष से संपर्क करने को कहा गया है। ऐसे में सुभाष के इसे पूरे खेल में शामिल होने की संभावना भी जताई जा रही है।
केंदुआ उच्च विद्यालय में शुभम कुमार नारदीगंज के परमा गांव के विवेक कुमार के बदले परीक्षा देने पहुंचा था। परीक्षा में बैठने से पूर्व वह पकड़ा गया। केंद्राधीक्षक अजय कुमार की भूमिका संदिग्ध पाई गई। सदर एसडीएम उमेश कुमार भारती ने तीन घंटे तक पूरे मामले की जांच की। जांच जारी है। केंद्राधीक्षक ने पकड़े गए छात्र का बचाव करते हुए कहा था कि अपने जान-पहचान के धर्मेंद्र नामक शख्स से नाश्ता मंगवाया था। उसने ही इस लड़के को भेजा है। जब अधिकारियों ने धर्मेंद्र को बुलाने की बात कही तो केंद्राधीक्षक के पास कोई जवाब नहीं था।
बायोमीट्रिक चलाने वाला युवक भी शक के दायरे में?
– केंद्र पर बायोमीट्रिक चलाने वाला युवक भी शक के दायरे में है। उसने ही थाना पहुंच कर सबसे पहले मुन्ना भाई के बैठने की जानकारी पुलिस को दी थी। पुलिस को जानकारी देने के बाद वह भाग गया। मुन्ना भाई की जानकारी मिलते ही पुलिस हरकत में आ गई और केंद्र पर पहुंच गई। केंद्र पर प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों की मदद से मुन्ना भाई को पकड़ा गया। बायोमीट्रिक मशीन चलाने वाला युवक आखिर क्यों भागा, अधिकारी असमंजस में है।
1708 परीक्षार्थी रहे अनुपस्थित_
– 22 केंद्रों पर कुल 8736 परीक्षार्थियों में 1708 अनुपस्थित रहे। जिला नियंत्रण कक्ष से प्राप्त सूचना के अनुसार सभी केंद्रों पर शांतिपूर्ण एवं कदाचार मुक्त परीक्षा हुई। जिलाधिकारी यश पाल मीणा ने संत जोसेफ स्कूल, कन्या इंटर विद्यालय आदि परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण किया।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: