चित्रकूट की बिडंबना ग्राम पंचायतों में धड़ल्ले के साथ हो रहा सरकारी धन का दुरुपयोग

संजय मिश्रा समाज जागरण ब्यूरो चीफ चित्रकूट
चित्रकूट के पहाड़ी ब्लॉक मैं 81 ग्राम पंचायत हैं इन ग्राम पंचायतों में प्रधान और सचिव की मिलीभगत के द्वारा किस तरह हेराफेरी करके सरकारी धन का दुरुपयोग किया जाता है इसका जीता जागता उदाहरण नांदी ग्राम पंचायत में देखने को मिलता है आपको बताते चलें कि शिव लारी तालाब के भीटे मैं बनी दलित बस्ती की कॉलोनी का हैंडपंप बराबर पानी दे रहा है वर्तमान में भी जनता का पूरा काम इसी हैंडपंप से हो रहा है बस्ती निवासी देवी दयाल सूरजभान रमन और कुंभराज के द्वारा बताया गया कि यह नल कई वर्षों से बराबर चल रहा है और इसी नल से हम सभी लोगों का बसर होता है और हमें यह मालूम भी नहीं था कि इस नल का रिबोर भी हो चुका है वही विनय नामदेव के द्वारा कहा गया की प्रधान और सचिव के द्वारा ग्राम पंचायत में हेराफेरी करके इसी प्रकार सरकारी धन का दुरुपयोग किया जाता है और जनता को इन लोगों के भ्रष्टाचार का पता भी नहीं चलता इनके द्वारा आगे बताया गया की ग्राम प्रधान और सचिव के द्वारा इस नलको रिबोर दिखाकर 77536 रुपए का बजट निकाल लिया गया है और इस नल का रिबोर राजेश पुत्र जग्गा के घर के पास दिखाया गया है जोकि इस बस्ती में कहीं भी रिबोर नहीं हुआ इस संदर्भ में राजेश का कहना है कि अभी नल लगा नहीं है दलित बस्ती के लोगों ने मांग की है कि इसकी उच्च स्तरीय जांच कराकर उचित कार्यवाही की जाए अब देखना यह है की खबर छपने के बाद अधिकारियों द्वारा दोषियों के ऊपर कार्यवाही की जाती है या फिर जांच के नाम पर मामला रफा-दफा किया जाता है

Please follow and like us:
%d bloggers like this: