माघ मेला में हुए धर्मसंसद में कथित भड़काऊ भाषण पर एफआईआर*

*


रावेंद्र शुक्ला
जिला ब्यूरो
दैनिक समाज जागरण

प्रयागराज। माघ मेला क्षेत्र में आयोजित धर्म संसद में दिए गए भाषण के ख़िलाफ़ थाना दारागंज में ऑन लाइन प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

जावेद मोहम्मद ने यह एफ़आईआर महामंडलेश्वर प्रबोधानंद महाराज , शंकराचार्य नरेंद्रनन्द सरस्वती , यतीन्द्रनाथ गिरी, स्वामी आनंद स्वरूप , स्वामी राम लखन दास साध्वी पूजा सकून के विरुद्ध
दर्ज की है ।

जावेद का आरोप है कि इस धर्म संसद की पूरी कार्यवाही , भाषण और प्रस्ताव इस देश के संविधान के मूल्यों , समरसता , धर्मनिरपेक्षता के खिलाफ है और विभिन्न समुदायों में वैमनस्यता फैलाने तथा अल्पसंख्यक को असुरक्षित करने वाला है ।

प्राथमिकी के अनुसार स्वामी आनंद स्वरूप द्वारा आयोजित सन्त सम्मेलन / धर्म संसद के पोस्टर होर्डिंग में लिखा था कि इसका आयोजन इस्लामिक जिहाद के खिलाफ़ और हिन्दू राष्ट्र के निर्माण के लिए हुआ है। स्वामी राम लखन दास ने देवबंद और बरेली शरीफ के मदरसों को तत्काल बन्द करने की मांग की थी।

प्राथमिकी के अनुसार स्वामी नरेंद्रनन्द सरस्वती ने कहा था कि अल्पसंख्यको को भारत से समाप्त कर देना चाहिए और हमे हाथों में हथियार उठा लेना चाहिए।च

Please follow and like us:
%d bloggers like this: