fbpx

लोकसभा चुनावः जीत✌ के लिए पार्टियां दूसरों के घरों में लगा रहीं सेंध 👀

लोकसभा चुनावः जीत✌ के लिए पार्टियां दूसरों के घरों में लगा रहीं सेंध 👀

लोकसभा चुनाव की तारीखों का एलान होने की साथ ही नेताओं का दल बदलने का शुरू हुआ सिलसिला लगातार बढ़ता जा रहा है। जीत के लिए हर पार्टी दूसरी पार्टी में सेंधमारी कर रही है। शनिवार को भी कई पार्टी के नेताओं ने दल बदले।

उत्तराखंड में पूर्व मुख्यमंत्री मेजर जनरल भुवन चंद्र खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी ने कांग्रेस का दामन थाम लिया। कांग्रेस उन्हें पौड़ी सीट से अपना उम्मीदवार बना सकती है। इस सीट पर फिलहाल उनके पिता बीसी खंडूरी सांसद है। प्रयागराज बीजेपी सांसद श्यामाचरण गुप्ता पार्टी से बगावत कर सपा में शामिल हो गए हैं। उन्हें बांदा से उम्मीदवार भी घोषित कर दिया गया है।

वहीं ओडिशा की नबरंगपुर सीट से बीजू जनता दल (बीजेडी) सांसद बलभद्र मांझी बीजेपी में शामिल हो गए हैं। उन्होंने हाल ही में पार्टी से इस्तीफा दिया था। वहीं ओडिशा के भाजपा अध्यक्ष बसंत कुमार पांडा के भतीजे हरीश चंद्र पांडा सीएम नवीन पटनायक की मौजूदगी में बीजू जनता दल में शामिल हुए।

पीतमपुर के पूर्व विधायक वंगा गीता और पूर्व तेदेपा नेता अदला प्रभाकर रेड्डी पार्टी प्रमुख जगन मोहन रेड्डी की मौजूदगी में वाईएसआर कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए। वहीं असम के तेजपुर से भाजपा सांसद राम प्रसाद शर्मा ने भी पार्टी छोड़ दी है। शर्मा ने कहा कि पार्टी में नए घुसपैठियों के कारण पुराने कार्यकर्ताओं को नजरअंदाज किया जा रहा है।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: