एलएनआईपीई ग्वालियर और पेफी के बीच महत्वपूर्ण समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर





ग्वालियर: शारीरिक शिक्षा और खेल के क्षेत्र में देश के दो प्रमुख संगठनों के बीच सहयोग के लिए फिजिकल एजुकेशन फाउंडेशन ऑफ़ इंडिया (पेफी) और लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान, ग्वालियर (एल एन आई पी ई) के बीच एक बहुत ही महत्वपूर्ण समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। विदित हो कि पेफी शारीरिक शिक्षा के उत्थान और देश में स्थायी और संपन्न खेल संस्कृति के विकास के उद्देश्य से काम कर रहे शारीरिक शिक्षा और खेल पेशेवरों का भारत का सबसे बड़ा संघ है जिसे की भारत सरकार के खेल मंत्रालय ने राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन संस्था का दर्जा दिया हुआ है वहीँ एलएनआईपीई शारीरिक शिक्षा और खेल विज्ञान में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के समृद्ध इतिहास के साथ भारत का प्रमुख शारीरिक शिक्षा और खेलकूद का संस्थान है।

एमओयू पर पेफी की ओर से राष्ट्रीय सचिव डॉ. पीयूष जैन और एलएनआईपीई की ओर से कुलपति प्रो. विवेक पांडे द्वारा हस्ताक्षर किए गए। इस अवसर पर संस्थान के कुलपति प्रो. विवेक पांडे ने कहा कि इस साझेदारी से पूरे शारीरिक शिक्षा और खेलकूद बिरादरी को लाभ होगा, इससे संस्थानों के बीच ज्ञान के आदान-प्रदान में सुधार होगा और यह अन्य संस्थानों को भी छात्रों के अधिक से अधिक अच्छे के लिए समान संघों के लिए प्रोत्साहित करेगा। प्रो. पाण्डेय ने आगे कहा कि एलएनआईपीई शारीरिक शिक्षा और खेल के क्षेत्र में एक प्रमुख संस्थान है, इसने देश और दुनिया को कई प्रसिद्ध शिक्षक, कोच, अधिकारी और पेशेवर दिए हैं। एलएनआईपीई निश्चित रूप से शारीरिक शिक्षा और खेल के लिए अत्यधिक मूल्य और उत्कृष्टता का एक भारतीय संस्थान है। जबकि पेफी देश में शारीरिक शिक्षा और खेल पेशेवरों का सबसे बड़ा संघ और एक राष्ट्रीय खेल प्रमोशन संगठन है। हमारा मानना है कि एलएनआईपीई और पेफी के बीच सहयोग की काफी संभावनाएं हैं और यह एक बहुत ही उत्पादक और लाभकारी सहयोग साबित हो सकता है। सहयोग संभावित रूप से भारत में शारीरिक और खेल की परिवर्तन प्रक्रिया में उत्प्रेरक के रूप में कार्य कर सकता है जिसके परिणामस्वरूप समुदायों पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

डॉ. पीयूष जैन ने कहा कि यह समझौता ज्ञापन शारीरिक शिक्षा और खेल के उत्थान के लिए देश में संस्थागत सहयोग में सुधार की दिशा में एक बड़ा कदम है। एमओयू का उद्देश्य अनुसंधान में जुड़ाव बढ़ाना और देश भर में शारीरिक शिक्षा में सुधार करना है। समझौते का उद्देश्य शारीरिक शिक्षा, खेल, और शारीरिक गतिविधि के क्षेत्रों में अनुसंधान, लोकप्रियकरण और शिक्षण में दो हस्ताक्षरकर्ता संस्थानों के बीच ज्ञान विनिमय उत्पन्न करने के लिए एक सहयोग नेटवर्क को प्रोत्साहित करना और स्थापित करना है। डॉ. पीयूष जैन ने इस महत्वाकांक्षी साझेदारी को सक्षम बनाने के लिए कुलपति प्रो. विवेक पांडे और कुलसचिव डॉ. अरविन्द साजवान का आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर संस्थान के बिभिन्न विभागाध्यक्ष डॉ. के. के. साहू, डॉ. एम्. के. सिंह, डॉ. जोसफ सिंह, डॉ. बृज किशोर सिंह, डॉ. नीबू कृष्णा, डॉ. यतेन्द्र सिंह राजपूत और पेफी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. चंद्रशेखर सिंह तोमर उपस्थित थे.

Please follow and like us:
%d bloggers like this: