fbpx

यह हमारे लिए गर्व का विषय है कि नरेन्द्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम 1.32 लाख दर्शकों की क्षमता के साथ विश्व का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम बन गया है : राष्ट्रपति कोविंद

यह हमारे लिए गर्व का विषय है कि नरेन्द्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम 1.32 लाख दर्शकों की क्षमता के साथ विश्व का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम बन गया है : राष्ट्रपति कोविंद

भारत के राष्ट्रपति ने अहमदाबाद में नरेन्द्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन और सरदार वल्लभभाई पटेल स्पोर्ट्स एन्क्लेव का शिलान्यास किया
प्रविष्टि तिथि: 24 FEB 2021 2:58PM by PIB Delhi
भारत के राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने आज (24 फरवरी, 2021) अहमदाबाद में नरेन्द्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन और सरदार वल्लभभाई पटेल स्पोर्ट्स एनक्लेव का शिलान्यास किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यह हमारे लिए गर्व का विषय है कि नरेन्द्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम 1.32 लाख दर्शकों की क्षमता के साथ विश्व का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम बन गया है।उन्होंने आगे इस बात को रेखांकित किया कि यह न केवल विश्व में सबसे बड़ा स्टेडियम है, बल्कि विभिन्न खेल गतिविधियों के लिए यह विश्व-स्तरीय सुविधाएं भी प्रदान करता है।उन्होंने गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के उन सभी पदाधिकारियों, एजेंसियों और सहयोगियों को बधाई दी, जिनकी नरेन्द्र मोदी स्टेडियम को वर्तमानस्वरूप देने में महत्वपूर्ण भूमिका रही है।इस स्टेडियम की विशेषताओं की सराहना करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि ग्रीन बिल्डिंग सर्टिफिकेशन की गोल्ड रेटिंग के साथ यह स्टेडियम इको-फ्रेंडली विकास का एक अच्छा उदाहरण भी है।यह स्टेडियम विश्व पटल पर अपनी मजबूत पहचान बनाने वाले नए भारत की आकांक्षाओं क्षमताओं को प्रदर्शित करता है।राष्ट्रपति ने आगे कहा कि भारत ने क्रिकेट में जो वर्चस्व प्राप्त किया है, वह इस विश्वास को मजबूत करता है कि अन्य खेलों में ही नहीं, बल्कि विकास के क्षेत्रों में भी हमारा देश विश्व में एक ऊंचा स्थान हासिल करने की क्षमता से परिपूर्ण है।

राष्ट्रपति ने आगे बताया कि भारत को ‘पावर हाउस ऑफ क्रिकेट’या ‘हब ऑफ क्रिकेट’ कहा जाता है, इसलिए यह सर्वथा उपयुक्त है कि विश्व का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम भी अब हमारे देश में ही है। उन्होंने इस स्टेडियम के निर्माण को लेकर किए गए प्रयासों की सराहना की, जिसे गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में शुरू किया गया था और उसके बाद गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष के रूप में श्री अमित शाह द्वारा कुशलतापूर्वक आगे बढ़ाया गया।

राष्ट्रपति ने आगे कहा कि हमारे कई युवा क्रिकेट खिलाड़ी, भारत के दूर-दराज के इलाकों में स्थित छोटे गांवों और शहरों से आकर अपनी कड़ी मेहनत के बल पर धीरे-धीरे महत्वपूर्ण खेल प्रतिभाओं के रूप में उभर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारे युवा अंतरराष्ट्रीय स्तरों केअन्य खेलों में भी बेहतरीन प्रदर्शन करने की क्षमता रखते हैं।इसके लिए जरूरी है कि हम क्रिकेट की तरह अन्य खेलों के खिलाड़ियों को भी विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचा प्रदान करें।इस उद्देश्य के साथ, यह महत्वपूर्ण है कि गुजरात की सरकार ने नरेन्द्र मोदी स्टेडियम के परिसर में ही एक अंतरराष्ट्रीय स्तर के स्पोर्ट्स एनक्लेव को बनाने की पहल की है।उन्होंने इस बात को रेखांकित किया कि यह स्पोर्ट्स एनक्लेव एक मल्टी-स्पोर्ट्स वेन्यू के रूप में काम करेगा। इसके अलावा यह राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय आयोजनों की मेजबानी की सुविधाएं भी प्रदान करेगा।राष्ट्रपति ने आगे इस पर विश्वास व्यक्त किया कि यह स्पोर्ट्स एन्क्लेव अहमदाबाद शहर को स्पोर्ट्स इन्फ्रास्ट्रक्चर की दृष्टि से एक नई पहचान दिलाएगा।

राष्ट्रपति ने आगे कहा कि खेल सुविधाओं का विकास महत्वपूर्ण होने के अलावा यह भी महत्वपूर्ण है कि प्रतिभाशाली खिलाड़ी इन सुविधाओं का व्यापक स्तर पर लाभ उठा सकें।हमारी खेल प्रतिभाओं के संपूर्ण विकास के लिए सुविधा और सुविधा तक पहुंच, दोनों ही जरूरी है। दूर-दराज के इलाकों में रहने वाले कई प्रतिभावान खिलाड़ियों को आर्थिक तंगी या अन्य बाधाओं के चलते अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित करने का अवसर नहीं मिल पाता है। युवा खिलाड़ियों को सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। इस तरह के प्रयासों को और अधिक व्यापक स्तर पर ले जाने से हमारे देश में छिपी हुई खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने का एक अवसर मिलेगा। इस तरह की कोशिशें न केवल प्रतिभा का पोषण करने के लिए बल्कि युवा के संपूर्ण विकास के लिए भी महत्वपूर्ण है।एक देश के विकास के लिए सूचकांक होने के अलावायह दल भावना, स्वस्थ प्रतिस्पर्धा और व्यक्तिगत लक्ष्यों के रूप में राष्ट्रीय लक्ष्यों की पहचान विकसित करता है। इसके अलावा ये समाज और राष्ट्रीय विकास को आगे बढ़ाने को लेकर युवा पीढ़ी के चरित्र निर्माण में भी सहयोग करती हैं।

राष्ट्रपति ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान राज्य में खेलों को काफी प्रोत्साहन दिया था। उन्होंने आगे कहा कि पूरे देश में केंद्र सरकार द्वारा खेलों की एक नई संस्कृतिविकसित की जा रही है।‘खेलो- इंडिया’और‘फिट-इंडिया’जैसे अभियान लोगों में अच्छे स्वास्थ्य एवं खेलों की ओरएकरूझान पैदा कर रहे हैं। वहीं‘टार्गेट ओलम्पिक पोडियम स्कीम’ जैसे कार्यक्रमों के साथ खेल जगत में भारत की प्रभावशाली उपस्थिति दर्ज कराने के प्रयास किए जा रहे हैं।उन्होंने आज नवनिर्मित स्टेडियम में क्रिकेट खेलने वाली भारतीय और इंग्लैंड की टीमों को शुभकामनाएं भी दीं।

राष्ट्रपति के संबोधन को हिंदी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Please follow and like us:
%d bloggers like this: