क्या कोरोना भी रविवार को छुट्टी पर है : अनिल के गर्ग

समाज जागरण 9 जनवरी 2022

नोएडा: लगातार बढते ओमीक्रान के मामले और सरकारी अस्पतालों में स्टाफ और प्रशासन की लापरवाही ने समाजसेवियों के लिए चिंता बढा दी है। नोएडा शहर के वरिष्ठ नागरिक व अधिवक्ता श्री अनिल के गर्ग नें समाज जागरण को जो बताया उसे जानकर आप भी हैरान और परेशान रह जायेंगे। श्री गर्ग ने बताया कि उनको कई दिनों से हल्की बुखार और सर्दी खांसी का लक्षण है, इसलिए मै नोएडा सेक्टर 30 के अस्पताल में पहुँचा। लेकिन वहाँ कि जबाबदेह प्रशासन के द्वारा निभाये जा रहे जिम्मेदारियों को देखकर मै हैरान और परेशान रह गया। अस्पताल में कोई भी स्टाफ सही तरीके से जानकारी देने के लिए तैयार ही नही है। उल्टे राजनीतिक और कुटनीतिक तरीके से मामले को सुलझाने की कोशिश की जाती है।

वहाँ पर सीएमएस ने अपने स्टाफ को बुलाकर कहा कि कोई भी मरीज 2 बजे के बाद आते है तो कोविड जांच नही होना चाहिए। सिर्फ आपातकालीन स्थिति में ही रोगियों को इसका अनुमति है। लेकिन इस प्रकार से कोई भी मुद्रित जानकारी वहाँ पर बैनर पोस्टर या बालपेंटिंग के जरिये नही दी गई है। अब जबकि नोएडा और पूरे देश में मामले लगातार बढ़ रहे है। अब अधिक जांच की आवश्यकता है। जांच के समय में बढ़ोतर करके 5 बजे तक करने की जरूरत है। रविवार को भी जांच करने की आवश्यकता है। क्या रविवार को कोरोना छुट्टी पर है।
मरीज जो लोग पहले से परेशान होते है उनके साथ में मित्रवत व्यवहार होने चाहिए। अब जबकि ओमीक्रान के सामान्य लक्षण है इसलिए आवश्यकता है कि किसी भी मरीज को बिना जांच के वापस नही भेजे जाने चाहिए। इस मामले में हमने डीएम एडीएम से भी संपर्क करने की कोशिश की लेकिन किसी से भी संपर्क नही हो पाया। मेरा मानना है और प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री नें भी हमेशा से कहा है कि टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रीटमेंट के जरिये ही कोरोना युद्ध को जीता जा सकता है। ईलाज से बेहतर होगा कि संक्रमण को फैलने पर ही रोकथाम हो, ताकि फैल न सके।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: