संघर्ष के साथ गुजरा है मेरा जीवन, मैं इसका डटकर करूंगी मुकाबला- पूजा पाल



एनडी तिवारी ब्यूरो प्रभारी दैनिक समाज जागरण

कौशांबी। हार नहीं मानूँगी, रार नहीं ठानूँगी। चुनौती भरा रहा है मेरा जीवन, मैं इससे हमेशा संघर्ष करूंगी। यह बातें चायल विधानसभा की सपा प्रत्याशी पूजा पाल ने मूरतगंज विकास खंड के सिरियावां कला, पाण्डेयमऊ आदि सहित दर्जनों गांवों में दौरा कर लोगों से मुखातिब होते हुए कहीं है।
उन्होंने सिरियावां गांव में आयोजित जनचौपाल और नुक्कड़ सभा के दौरान लोगों को बताया कि उन्हें पूर्व विधायक राजू पाल की हत्या के बाद उन्हें चुनौतियों का सामना करना पड़ा। विधायक बनने के बाद उनके सामने, घर, परिवार रिश्तेदार के साथ साथ क्षेत्र उर समाज के विकास की जिम्मेदार इन अनजान कंधों पर आ गई। शहर पश्चिमी से दो बार विधायक रहीं पूजा पाल ने चुनावी जनसभा में लोगों को बताया कि उनका वर्तमान जीवन भी चुनौतियों से भरा हुआ है। इन्ही चुनौतियों से लड़ने के लिए वह लगातार संघर्ष कर रहीं है। चायल में विधानभा कस चुनाव को लेकर उन्होंने बताया कि उनके लिए सौभाग्य की बात है कि सपा मुखिया अखिलेश यादव ने उन्हें अपना प्रत्याशी बनाकर यहां भेजा है। चायल क्षेत्र का चहुमुखी विकास के साथ ही बहन और बेटियों की रक्षा करना और क्षेत्र में बेरोजगारी हटाकर बेरोजगार लोगों को रोजगार देना उनकी पहली प्राथमिकता होगी। उन्होंने बताया कि क्षेत्र की जनता भाजपा सरकार के कारनामे से पूरी तरफ से ऊब चुकी है। अब बदलाव करने का वक्त आ गया है। क्षेत्र में विकास को पहली प्राथमिकता देना उनकी जिम्मेदारी है। वह चायल विधानभा के एक एक हिस्से में विकास को नई गति देंगी। इस दौरान उन्होंने लोगों से अपील किया कि आने वाली 27 फरवरी को लोकतंत्र का महापर्व पर साइकिल के निशान पर बटन दबाकर समाजवादी पार्टी की सरकार बनाएं। इस दौरान उनके साथ अनिल यादव, चन्द्रजीत यादव, शमीम अहमद, पूर्व जिलाध्यक्ष अशोक यादव, सुग्गन पाल, साजू पाल, शिव ब्रत पाल, राम नरेश, सोनू कुमार, अवधेश कुमार, दिनेश पासी, गया प्रसाद पासी, राजेन्द्र पाल, सुनील पाल, उदयवीर, मुमताज अहमद आदि सहित सैकड़ो कार्यकर्ता व अपार जनसमूह उपस्थित रहा।

गुटबाजी में न पड़े कार्यकर्ता, चुनाव का समय है, एक साथ लग जाएं

चायल।सपा के चायल विधानसभा क्षेत्र में हो रही गुटबाजी को लेकर प्रत्याशी पूजा पाल ने पार्टी के सभी पदाधिकारियों से अपील करते हुए कहा कि सपा मुखिया ने कुछ सोंच समझ कर उन्हें यहां चुनाव लड़ने के लिए भेजा है। ऐसे में यदि कार्यकर्ता और पदाधिकारी गुटबाजी में न पड़ें। चुनाव के लिए समय बेहद ही कम है। उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों से यह भी अपील किया कि सभी लोग एकजुट होकर एक साथ क्षेत्र के लोगों के साथ लग जाएं। जिससे कि सूबे में समाजवादी की साफ और स्वच्छ सरकार बनाकर लोगों के सपने में नया रंग भरा जा सके।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: