fbpx

पूर्ण श्वेत रक्तकण गणना (white blood cell count)

पूर्ण श्वेत रक्तकण गणना
Total Count of Leucocytes(TLC)
श्वेत रक्त कोशिका की जाचँ दो तरह की होती है।
1.श्वेत रक्त कण की संख्या मालूम की जाती है उसे Total Count of WBC अथवा Total Count of Leucocytes(TLC) कहते हैं।
2.श्वेत रक्त कण के विभिन्न प्रतिशत संख्या मालूम की जाती है उसे विभेदक श्वेत रक्तकण गणना (DLC) अर्थात differential count of WBC अथवा Differential count of leucocytes कहते है।

A white cell count (TLC) estimates the total number of white cells in a cubia millimeter of Blood. It is important in the diagnosis of diagnosis of diseases especially when accompanied by a differential white cell count.

श्वेत रक्त कोशिकाओं (WBC) की कुल संख्या की गणना (Total leucocytes count-TLC) तथा इसके विभिन्न प्रकारों की अलग-अलग गणना (Differential leucocytes count-DLC) का रोग निदान (Diagnosis) में बहुत महत्व है। रक्त में इनकी संख्या कम या अधिक होने से निम्न अवस्थायें उत्पन्न होती हैं।
1.श्वेतकोशिका बहुलता (Leucocytosis) जब रक्त में श्वेत रक्तकोशिकाओंकी संखया बढ़ जाती है तब उसे श्वेत कोशिका बहुलता कहते हैं।
2.श्वेतकोशिकाल्पता (Leucopenia) जब रक्त में श्वेत रक्तकोशिकाओं की मात्रा घट जाती हैं तब उस स्थिति को श्वेतकोशिकाल्पता कहते हैं।
गणना के लिये उपकरण एंव सामग्री
श्वेत रक्त कोशिकाओं (WBC) की गणना के लिये निम्न उपकरणों एंव सामिग्री की आवश्यकता होती है
1 अंगुली-छेदन यंत्र- जैसा कि पहले भी हमने बता दिया आपको है।
2 श्वेत रक्तकण पिपेट (सफेद दाने वाला)
3 तनुकरण घोल-4प्रतिशत एसिटिक एसिड,2 बूँद जेनशियन वायलेट या लिटर- इन सबको अच्छी तरह से मिला लें (रक्तकोशिकाओं को हल्का करने वाला विलयन है) ।
4 न्यूबार चेम्बर (हीमोसाइटोमीटर) एंव कवर स्लिप।
5 सफाई के लिये कपड़ा ।
6 तनूकारक पिपेट को साफ करने वाला स्टाइलेट।
7 सूक्ष्मदर्शी या माइक्रोस्कोप ।

विधि अथवा श्वेत रक्त कोशिकाओं की गणना करने की कार्य- विधि

सभी उपकरणों को साफ करके सामग्री तैयार रखें ।
अब पिपेट में 0.5 के अंक तक पर्याप्त सावधानी के साथ रक्त लें। जमावरोधक रक्त को जाँच के पहले भलीभाँति मिला लें ।

पिपेट की बाहरी सतह पर जो भी खून लगा हो उसे कपड़े से पोंछ लें।
अब तनुकारक घोल को 11 के निशान तक भर लें। सीथ ही पुपेट को घुमाकर मिश्रण को मिलायें । (पिपेट में भरे धोल को करीब 3 मिनट तक मिलाये)।
तत्पश्चात् पहली 4 बूँदे इस मिश्रण की पिपेट से फेंक दें।
न्यूबार चेम्बर लें। न्यूबार चेम्बर बिलकुल स्वच्छ व नमी रहित हो। अब कवर स्लिप को किनारे पर रख कर इस प्रकार सरकायें कि दोनों अंकित चतुर्भुज इससे ढक जाँय। तत्यश्चात् पिपेट को 45 के कोण पर चेम्बर व कवर स्लिप के बीच रख कर तनुकरित रक्त को कोशिका प्रक्रिया से चेम्बर में भर दें। ध्यान रहे कि हवा के गुल्म चेम्बर में न रहें। साथ ही सारा मापक खाना भर जाना चाहिये एंव मिश्रण भी बाहर नहीं बहना चाहिये।

दो मिनट रूक कर (कोशिकाओं के स्थायित्व के लिये) फिर गणना करें।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: