पकरीबरावां के एरुरी में रखी गई शांति सजल चैरिटेबल हॉस्पिटल की नींव

पकरीबरावां (नवादा)
एरुरी ग्राम सहित पूरे नवादा वासियों को जल्द ही स्वास्थ्य संबंधित सभी आधुनिक सुविधाएँ मिलने जा रही हैं। शांति सजल रिसर्च एंड चैरिटेबल ट्रस्ट जल्द ही एरुरी ग्रामवासियों को शांति सजल चैरिटेबल हॉस्पिटल के रूप में तोहफा देने जा रहा है।
शुक्रवार को इसकी नींव एरुरी में रखी गई।
भारत भ्रमर (संस्थापक ट्रस्टी शांति सजल रिसर्च एवं चैरिटेबल ट्रस्ट), डॉ. सिल्वी रोजर्स (सेलेब्रिटी हेयर स्टाइलिस्ट) एवं अमीषा सेठी (हौट मोंडे मिसेज इंडिया वर्ल्डवाइड 2021) ने संयुक्त रूप से इसकी नींव रखी।
नींव रखने के पश्चात शांति सजल रिसर्च एंड चैरिटेबल ट्रस्ट के संस्थापक ट्रस्टी भारत भ्रमर ने कहा कि इस हॉस्पिटल के खुलने से नवादा जिले के लोगों को स्वास्थ्य क्षेत्र की सुविधाएं और भी सुचारू रूप से मिल सकेगी। लोगों को अब इलाज कराने के लिए इधर – उधर भटकने की जरूरत नहीं होगी। हमारा उद्देश्य असहाय तथा लाचारों को सुगमता से आधुनिक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करना है। उन्होंने इस हॉस्पिटल के जल्द निर्माण की आशा जताई। उन्होंने बताया कि इस हॉस्पिटल का निर्माण आदर्श इंटर विद्यालय बिहारशरीफ के पूर्व प्राचार्य स्वर्गीय विष्णुदेव प्रसाद सजल की धर्मपत्नी शांति सजल की स्मृति में करवाया जा रहा है। इस पुण्य कार्य के लिए भूमि का दान सजल परिवार के तरफ से किया गया है।
वहीं, सेलेब्रिटी हेयर स्टाइलिस्ट डॉ. सिल्वी रोजर्स ने कहा कि यह हॉस्पिटल आने वाले समय मे नवादा जिले के लोगों के लिए एक आशा की किरण साबित होगा। इसके खुलने से लोगों को बेहतर तथा सुचारू स्वास्थ्य सेवाएं आसानी से मिल सकेगी।
जबकि हौट मोंडे मिसेज इंडिया वर्ल्डवाइड अमीषा सेठी ने हॉस्पिटल के लिए अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि निःसंदेह ही इस हॉस्पिटल के खुलने से जरुरतमंद लोगों तथा रोगियों को असाध्य बीमारियों का इलाज बेहद कम खर्च तथा अच्छे चिकित्सकों द्वारा मिल सकेगी। उन्होंने बताया कि इस नेक कार्य के लिए मेरे साथ 120 महिलाएं जो की मिसेज इंडिया वर्ल्डवाइड की कंटेस्टेंट हैं, वो करीब 20 देशों में मुहिम चला रही हैं ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इससे जुड़ सकें।
मौके पर ट्रस्ट के लोगों सहित कई गणमान्य लोग उपस्तिथ रहे।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: