असम करीमगंज जिले के बारईग्राम जीपी अध्यक्ष माशुमा परवीन ने फोर्टिन फाइनेंस की सात योजनाओं से इन 3442474 रुपये का गबन किया आरोप।


————————-
पाथारकान्दी थाने में मामला दर्ज।
————————-
असम संवाददाता दैनिक समाज जागरण: असम करीमगंज जिले के पाथारकान्दी उन्नयन प्रखंड के अंतर्गत बारईग्राम ग्राम पंचायत मे फोर्टिन फाइनेंस सात योजनाओं पर भ्रष्टाचार का आरोप ओर इन 3442474 रुपये का गबन किया गया है। बारईग्राम पंचायत के 2 नं वार्ड के प्रतिनिधि मताब उद्दीन ने 4 अप्रैल को पाथाराकान्दी थाने में एफ आई आर दर्ज कर फोर्टिन फाइनेंस के कार्य की जानकारी मांगी. बारईग्राम ग्राम पंचायत सचिव नूर उद्दीन बारईग्राम जीपी अध्यक्ष मासूमा परवीन एवं चम्पा दे पाथारकान्दी प्रखंड इंजीनियर, इन पर 420 आईपीसी में तीन लोगों के नाम बताए. मताब उद्दीन के अनुसार इन तीनों की देखरेख में इन सात योजनाओं गबन किया गया है। उन्होंने आगे कहा कि ‘सबका सात सबका बिकास’ वर्तमान सरकार का यह नारा है लेकिन यहां पर सरकार का यह वादा ठीक उल्टा है इस जीपी में ‘सबका अपना साथ अपना विकास चल रहा है’ विकास नहीं विनाश नजर आ रहा ह, वहां मातब उद्दीन ने कहा कि एफ आई आर देने के बाद भी पुलिस क्या जांच कर रही है, यह नहीं पता. फोर्टिन फाइनेंस का पैसा तो निकल गया है, लेकिन कार्यस्थल पर कोई काम नहीं हुआ है। मातब उद्दीन ने संवाददाताओं को यह भी बताया कि FIR दर्ज करने के बाद भी काम फिर से शुरू ह सकते हैं किया यह उन्हें भी नहीं पता। मताब उद्दीन ने FIR में उल्लेख किया है। शेरपुर में अब्दुल गनी के घर से लेकर निजामुद्दीन के घर तक 6 लाख रुपए का कोई उचित काम नहीं शेरपुर के दूसरे वार्ड की ग्रामीण सड़क से लेकर अज़ीर उद्दीन के घर तक कोई काम नहीं है। नेशनल रोड नंबर 8 से सिहाब उद्दीन के घर तक रुपये का कोई उचित काम नहीं है। इसी तरह 4 और बारईग्राम गांव पंचायत मे सरकारी स्कीम की कोई हदीस नहीं मिल रहा है । मातब उद्दीन ने सरकार से गुहार लगाई कि बारईग्राम ग्राम पंचायत में बिना किसी काम के आम लोगों के पैसे का दुरुपयोग किया जा रहा है और गबन करने वालों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए बारईग्राम जीपी में उच्चस्तरीय जांच कराई ताकि जल्द से जल्द भ्रष्टाचार पर रोक लगाया जा सके।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: