भारत की सशस्त्र सीमा बल तथा नेपाल की एपीएफ के साथ समन्वय बैठक, सीमा सुरक्षा को लेकर लिए गए कई निर्णय।

समाज जागरण (पश्चिम चंपारण)
संवाददाता नीरज मिश्रा
भारतीय एस एस बी व नेपाल एपीएफ के बीच आपसी समन्‍वय की सहमति, सीमा क्षेत्र की सुरक्षा के लिए चलांएगे अभियान
माह जनवरी 2022 के लिए मासिक कमांडेंट स्तर प्रतिपक्ष समन्वय बैठक 10/04/2022 को इस वाहिनी के अंतर्गत बीओपी सोमेश्वर में वी वाहिनी एसएसबी और 17वी वाहिनी एपीएफ नेपाल के बीच आयोजित की गई।
चर्चा में शामिल बिंदु –
1.दोनों सीमाओं की सुरक्षा की वस्तु स्थिति के बारे में चर्चा की गई।
2.सीमाओं पर नक्सल गतिविधियां पर नजर रखने के लिऐ योजना बनायी गई।
3.नकली नोट नारकोटिक्स जंगली जानवरों और वस्तुओ तथा मानव तस्करी इत्यादि से संबंधित सूचनाओं का आदान प्रदान के संबंध में चर्चा की गई।
4.मदिरा तस्करी पर रोक लगाने के लिये चर्चा की गई।
5.सीमा पर कोविड-19 की वर्तमान स्थिति पर विचार विमर्श किया गया।
6.वारदातों को रोकने के लिए इपीएफ तथा एसएसबी के बीच नियमित बैठक तथा गस्ती करने पर सहमति जताई गई।
7. भारत नेपाल सीमा पर रोहिंग्या तथा अफगानी नागरिकों की संदेहास्पद गतिविधि पर नजर रखने के लिये तथा एहतियात बरतने के‍ लिये उठाये जाने वाले कदम पर चर्चा की गई।
8. ज़िम्मेदारी के क्षेत्र मे सीमा स्तंभों के भौतिक सत्यापन पर भी चर्चा किया गया ।
9. नेपाल मे स्थानीय स्तर के चुनाव मई 2022 मे होना है जिसके लिए विचार विमर्श किया गया।
इसके अलावा 65वीं वाहिनी के कमांडेंट श्री पंकज डंगवाल ने बताया की दोनों मित्र देश के सीमा वर्ती इलाके में शांती व अमन कायम रखने के लिये आयोजित इस बैठक में लिये गये निर्णय बेहद प्रभावशाली होंगे।
बैठक में निम्नलिखित अधिकारियों ने प्रतिनिधित्व किया-

भारतीय पक्ष –
1. श्री पंकज डंगवाल कमांडेंट,
65 बटालियन एसएसबी, बेतिया,
2. निरीक्षक सामान्य सुनिल कुमार
3. निरीक्षक सामान्य उदय कुमार सिंह
4. उप निरीक्षक/सामान्‍य दानवीर सिंह
नेपाल पक्ष –
1. श्री मनोज थापा
एस.पी, 17 वाहिनी, एपीएफ।
2. इंस्पेक्टर एक बहादुर गुरुंग,
बीओपी, कल्याणपुर, 17 वाहिनी एपीएफ।
3. सब इंस्पेक्टर नर बहादुर बिष्ट , बीओपी, छरछरी, 17 वाहिनी, एपीएफ

Please follow and like us:
%d bloggers like this: