मुख्य सचिव आमिर सुबहानी पहुंचे नवादा, गंगा जल उद्धव परियोजना का किया निरीक्षण।

धर्मजीत सिन्हा (नवादा प्रभारी)
नवादा।मुख्य सचिव, बिहार, आमिर सुबहानी गुरुवार को नवादा जिले के नारदीगंज प्रखंड के मोतनाजे गांव पहुंचे। उन्होंने निर्माणाधीन गंगा जल उद्धव परियोजना की प्रगति का जायजा लिया। उपस्थित वरीय पदाधिकारियों को निर्धारित समय-सीमा के अन्दर कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये। मुख्य सचिव ने निर्माधाीण विशाल जलाशय का निरीक्षण करते हुए संबंधित अभियंता से आवश्यक जानकारियां ली। उन्होंने क्लोरिन हाउस, वाटर ट्रीटमेंट प्लांट आदि का निरीक्षण किया और वरीय अधिकारियों से विभिन्न कार्यान्वित होने वाले योजनाओं के संबंध में फिडबैक प्राप्त किया। कार्यपालक अभियंता अरूण कुमार सिंहा ने परियोजना के डाईग्राम के माध्यम से बिन्दुवार जानकारी मुख्य सचिव को दी।
बताया गया कि मोतनाजे में 24 एमएलडी वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण किया जा रहा है, जिसमें से 98 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो गया है। फिल्टर हाउस 98 प्रतिशत, यूटीलिटी बिल्डिंग 98 प्रतिशत, कैरली फ्लोकूलेटर 100 प्रतिशत, केमिकल हाउस 98 प्रतिशत, फ्लोरिन हाउस 100 प्रतिशत, स्लैग बेल 100 प्रतिशत, वाश वाटर टैंक 98 प्रतिशत, क्लियर वाटर डिजरवायर 100 प्रतिशत, स्टीलिंग चैंबर 100 प्रतिशत, फ्लास मिक्सचर 100 प्रतिशत, फ्लो मिज्यूरिंग चैनल 100 प्रतिशत और सबस्टेशन का 75 प्रतिशत निर्माण कार्य पूर्ण हो गया है।मुख्य सचिव के निरीक्षण के समय अायुक्त मगध प्रमंडल गया मयंक बड़बड़े, आयुक्त पटना प्रमंडल संजय अग्रवाल, डीएम नवादा यशपाल मीणा, पुलिस अधीक्षक नवादा सुश्री डीएस सावलाराम, अनुमंडल पदाधिकारी नवादा उमेश कुमार भारती, भूमि सुधार उपसमाहर्ता मो. मुस्तकीम, डीपीआरओ सत्येन्द्र प्रसाद, एसडीपीओ सदर उपेन्द्र प्रसाद, विभिन्न प्रखंडों के प्रखंड विकास पदाधिकारी आदि उपस्थित थे।
कार्यपालक अभियंता ने बताया कि मई महीने के दूसरे सप्ताह में गंगा उद्धव जल परियोजना का ट्रायल किया जायेगा। इस परियोजना पर दिन रात कार्य तीव्र गति से और गुणवत्ता के साथ किया जा रहा है। मुख्य सचिव अधिकारियों और कार्यकारी एजेंसी के कार्याें से संतुष्ट दिखे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश के आलोक में आज गंगा उद्धव जल परियोजना का निरीक्षण किया जा रहा है। राजगीर, नवादा, गया आदि शहरों में जल आपूर्ति करने के लिए 05 वाटर टैंक का निर्माण किया जा रहा है। इस अवसर पर चीफ इंजीनियर पीएचईडी रंजन कुमार भी उपस्थित थे। बता दें कि 8 मई को परियोजना का ट्रायल होना निर्धारित किया गया है।बता दें कि गंगा उद्भव योजना मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का ड्रीम प्रोजेक्ट है। इसमें गंगा का पानी मोकाम के हथदह से गया तक पहुंचाना है। पानी की आपूर्ति आम लोगों को किया जाएगा। खासकर, नालंदा के राजगीर, नवादा के नारदीगंज व गया जिले के लोगों के लिए यह उपयोगी योजना है। करीब 191 किमी लंबी इस परियाजना के तहत पाइपलाइन के जरिए लिफ्ट गंगाजल को राजगीर के घोड़ाकटोरा में 354 एकड़ में स्टोर किया जाना है। नारदीगंज के मोतनाजे में पानी का ट्रीटमेंट पर इस्तेमाल के योग्य बनाया जाएगा।
साल 2020 से ही योजना पर काम शुरू हुआ था। जल संसाधन विभाग और पीएचईडी विभाग इस योजना के क्रियान्वयन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। करीब 26 सौ करोड़ रुपये की यह परियोजना है। मोतनाजे गांव के 27 एकड़ भूमि अधिग्रहित की गई है।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: