छत्तीसगढ़ की पहली महिला आईपीएस अंकिता शर्मा बनी युवाओं की प्रेरणाश्रोत



अंकिता शर्मा की बीहड़ जंगलों से घिरे नक्सल प्रभावित क्षेत्र बस्तर पोस्टिंग की वायरल हो रही तस्वीरें…हाल ही में हिंदी सिनेमा की मशहूर अदाकारा रवीना टंडन ने सोशल मीडिया पर अंकिता शर्मा की तारीफ कर हौसला बढ़ाया।

साल 2018 में यूपीएससी (UPSC) की परीक्षा क्रैक की और 203वीं रैंक प्राप्त कर छत्तीसगढ़ की पहली महिला आईपीएस ऑफिसर बनी.

अंकिता का जन्म 25 जून, 1990 को छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में हुआ था। व्यापारी पिता राकेश शर्मा और गृहणी मां सविता शर्मा की बेटी अंकिता तीन बहनों में सबसे बड़ी हैं। पढ़ाई में हमेशा अव्वल रही अंकिता ने 3 बार की कोशिश के बाद यूपीएससी की परीक्षा पास की। 2 वर्षों तक छत्तीसगढ़ के अलग-अलग जिलों में सेवा देने के बाद बस्तर में बतौर एएसपी नक्सल ऑपरेशन की कमान सौंपी गई। जिले के सभी नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में डीआरजी जवानों के साथ गश्त दल में भी शामिल हैं।

बस्तर के ग्रामीण अंचलों में राह से भटककर बंदूक उठाए युवक और युवतियों को सरकार की योजनाओं द्वारा मुख्यधारा से जोड़कर कर उन्हे देश की सेवा के लिए प्रेरित कर रही है।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: