चालाक लोमड़ी

सालों पहले एक जंगल में गधा, लोमड़ी और शेर के बीच अच्छी दोस्ती हो गई। तीनों…

शिकार का ऐलान

सालों पहले एक घने से जंगल में कुछ जानवर रहा करते थे। उनमें से एक शेर…

शेरनी का तीसरा पुत्र

किसी घने जंगल में एक शेर और एक शेरनी साथ रहते थे। वे दोनों एक-दूसरे से…

लालची मिठाई वाला

दिनपुर गांव में सोहन नाम का हलवाई रहता था। वह खूब बढ़िया और स्वादिष्ट मिठाइयां बनाने…

भूखी चिड़िया

सालों पहले एक घंटाघर में टींकू चिड़िया अपने माता-पिता और 5 भाइयों के साथ रहती थी।…

पिता का साया

जैसे पेट भरा होने पर सुस्वादु भोजन भी आकर्षित नहीं करता, वैसे ही जीवन में अत्यधिक…

अमर हुतात्मा भाई मतिदास, सतिदास एवं दयाला

10 नवम्बर/बलिदान-दिवस अमर हुतात्मा भाई मतिदास, सतिदास एवं दयाला गुरु तेगबहादुर के पास जब कश्मीर से…

मदद

उस दिन सबेरे आठ बजे मैं अपने शहर से दूसरे शहर जाने के लिए निकला ।…

चतुरी चमार

दोस्तो, किसी गांव में एक चमार रहता था। वह बड़ा ही चतुर था। इसीलिए सब उसे…

चांद पर खरगोश

बहुत समय पहले गंगा किनारे एक जंगल में चार दोस्त रहते थे, खरगोश, सियार, बंदर और…