बुजुर्ग और दिव्यांग सुरक्षा व्यवस्थाओं को देख खुश नजर आए*

*

अंकित गुप्ता समाज जागरण हापुड़


हापुड़। जनपद में विधानसभा चुनाव को लेकर अंतिम समय तक मतदाताओं में उत्साह देखा गया। हापुड़ क्षेत्र के मतदान केंद्रों पर बृहस्पतिवार को दिव्यांग व बुजुर्ग मतदाताओं ने भी अपना दम दिखाया। लोकतंत्र की मजबूती तय करने को वे भी मतदान केंद्रों पर पहुंचने से नहीं हिचके। कोई व्हील चेयर पर बैठकर तो कोई परिवारीजनों के सहारे से बूथों तक पहुंचा। मतदान के बाद ऐसे सभी लोगों के चेहरे पर सुकून का भाव साफ-साफ दिख रहा था। भारतीय लोकतंत्र की मजबूती शायद कुछ ऐसे ही दृश्यों के चलते पूरी दुनिया में जानी जाती है। दरअसल बृहस्पतिवार सुबह जब हापुड़ विधानसभा क्षेत्र में मतदान प्रक्रिया शुरू हुई तो इसमें भागीदारी के लिए बड़ी तादाद में दिव्यांगों व वृद्ध जन की भी भागीदारी सामने आयी। यूं तो लगभग सभी चुनावों में ऐसे लोग अपनी भागीदारी तय करते आए हैं लेकिन इस बार चुनाव आयोग व प्रशासन द्वारा मत-प्रतिशत बढ़ाने के प्रयासों के चलते भी बड़ी तादाद में दिव्यांग व वृद्ध वोटर अपने-अपने मतदान केंद्रों तक पहुंचे। एस.एस.वी. इंटर कॉलेज में बने मतदान केंद्र पर मतदान कर निकले 85 वर्षीय बुजुर्ग रघुवीर सिंह त्यागी ने कहा कि जब हम अन्य सभी कार्य में भागीदारी करते हैं तो फिर मतदान से ही किनारा कसना कतई उचित नहीं है और कहा कि वे दशकों से लगभग प्रत्येक चुनाव में मतदान करते आ रहे हैं। इस चुनाव में भी मत देकर उन्होंने अपना कर्तव्य पूरा किया है। ऐसे ही चलने-फिरने मे असमर्थ 33 वर्षीय दिव्यांग सोनू त्यागी ने व्हीलर चेयर के सहारे परिवार के साथ पहुंचकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। मत देकर उन्होंने अपना कर्तव्य पूरा किया। वहीं हापुड़ क्षेत्र के जैन कन्या पाठशाला में बने मतदान केंद्र पर मिले 82 वर्षीय बुजुर्ग रमजानी ने कहा कि मतदान हमारा लोकतांत्रिक अधिकार है। इससे हम अपने पसंद का जनप्रतिनिधि चुनने में अपनी भागीदारी तय करते हैं। बीमार होने के बावजूद मतदान केंद्र पर वोट देने पहुंचे बुजुर्ग और दिव्यांग सुरक्षा व्यवस्थाओं को देख खुश नजर आए।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: