ATMS कॉलेज में किया गया सेमिनार का आयोजन*
अंकित गुप्ता (समाज जागरण) हापुड़

*

‘फार्मेसी की पढ़ाई देती है सेवा, पैसा और सम्मान

हापुड।।ए टी एम एस के परमार्थ कॉलिज ऑफ फार्मेसी अच्छेजा में “करेंट एण्ड नोबल अपार्च्यूनिटीज इन फरमास्यूटिकल स्टडीज” विषय पर सेमिनार आयोजित की गयी। यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एण्ड एनर्जी स्टडीज, देहरादून के विषय विशेषज्ञ डॉ० राज कुमार तिवारी मुख्य वक्ता रहे। माँ सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्वलिल करने के उपरान्त डॉ. तिवारी ने प्रोजेक्टर के माध्यम से फार्मेसी के छात्रों को विषय को बखूबी प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि आज स्वास्थ्य सेवाओं में सेवा, पैसा और सम्मान की बहुत सम्भावनाएं विद्यमान है। कोरोना के कारण इनका महत्व और भी बढ़ गया है। देश में लगभग 64 लाख स्वास्थ्य पेशेवरों की कमी है। यदि छात्र फार्मेसी के साथ कम्प्यूटर का ज्ञान अर्जित कर लेते है तो सोने पे सुहागा हो जाता है। ऐसे स्वास्थ्य सेवियों की बहुत मांग है। निजी क्षेत्र से सरकारी क्षेत्र तक असंख्य स्वास्थ्य सेवी चाहिए। यदि छात्र बी० फार्म के साथ एम० बी०ए०, लॉ आदि कर लेते हैं तो ऐसे ज्ञानवान छात्र बहुत आगे निकल जाते हैं।

प्रो० हर्षिता ने मंच का सफल संचालन किया। फार्मेसी के प्राचार्य डॉ० अरुण कुमार ने विषय का प्रतिपादन और धन्यवाद ज्ञापन किया। कार्यकारी निदेशक डॉ. राकेश अग्रवाल ने कहा कि फेलेयोर इज द वेस्ट टीचर’ इस लिए एक बार की असफलता से घबराना नहीं चाहिए।’ एक दिन आसमां को छू लोगे, ‘हौसला अपना कम नहीं करना । चेयरमैन नरेन्द्र अग्रवाल व सेक्रेटरी रजत अग्रवाल ने मुख्य वक्ता और छात्रों की बहुत प्रशंसा की। डॉ. शिल्पी चन्दा, प्रो० अंजलि सिंह, सोनम, नितिन कुमार, विशाल, सचिन, विनय, विकास, अरुण कुमार का विशेष योगदान रहा।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: