आर्यन खान ड्रग्स मामला, और देशभक्त समीर वानखेड़े

पिछले बार के बड़े नेता स्वर्गीय प्रमोद महाजन जी के बेटे राहुल महाजन भी थी उन्हीं धाराओं में गिरफ्तार हुए थे जिन धाराओं में आर्यन खान NCB द्वारा गिरफ्तार हुआ।
यानी एनडीपीएस एक्ट के 25 26 और 27 के तहत राहुल महाजन भी 06 महीने के लिए जेल गए थे।
लेकिन तब आपको पता भी नहीं होगा कि किस अधिकारी ने उन्हें गिरफ्तार किया था। उस अधिकारी के बाप का क्या धर्म था। उस अधिकारी की पत्नी का क्या धर्म था, या उस अधिकारी की बहन कहां कहां घूम रही थी। उस वक्त किसी भी नेता ने NCB अधिकारी पर कोई इल्ज़ाम या दबाव नही डाला।
संजय दत्त भी ड्रग्स मामले में 07 महीने जेल में थे। भारत के किसी भी पत्रकार को नहीं पता होगा कि कौन से अधिकारी ने संजय दत्त को गिरफ्तार किया था और उसके बाप का क्या धर्म था और उस अधिकारी का जन्म प्रमाण पत्र क्या था।
अरमान कोहली पिछले 08 महीनों से NCB की कस्टडी में जैल में बंद है, लेकिन कोई शोर शराबा नही, कोई आरोप नही, किसी NCB अधिकारी को जान से मारने की धमकी तक नही। ना किसी NCB अधिकारी के परिवार को टॉर्चर किया गया।
लेकिन जब आर्यन खान गिरफ्तार हुआ, तब पूरी महाराष्ट्र सरकार और खासकर नवाब मलिक अपने धर्म के उस असली कैरेक्टर पर आ गया है, यानी सीधे समीर वानखेड़े के परिवार के महिलाओं पर वार। देशभक्त अधिकारी समीर वानखेड़े के परिवारवालो को जान से मारने की धमकी मिल रही है।
आर्यन खान को उनके धर्म के वजेसे NCB ने उसे फ़साया, ऐंसा आरोप नवाब मलिक कर रहा है। जब NCB ने संजय दत्त, राहुल महाजन, अरमान कोहली, और कई अन्य लोगो को भी तो ड्रग्स मामले में पकड़ा तब किसी ने ये आरोप नही लगाया कि उनके धर्म के वजेसे NCB ने उन्हें पकड़ा।
प्राचीन काल से ही ये जेहादी मानसिकता वाले लोग महिलाओं पर वार और बलात्कार इनका शुरू से सबसे बड़ा हथियार रहा है। यही कारण है कि जब विदेशी आक्रमनकारी क्रूर मुगलों का हिंदुस्तान पर आक्रमण होता था, तब लाखों हिंदुस्तानी महिलाएं जौहर कर लेती थी। वह फांसी से लटक कर नही मरती थी ताकि विदेशी मुघल इनके पार्थिव शव के साथ ही बलात्कार ना कर सकें।
यह जब कमजोर हो जाते हैं, तब यह देशभक्त अधिकारीयो के घर के महिलाओं पर वार करते हैं।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: