भर्ती परीक्षा को निष्पक्षता से शांतिपूर्ण संपन्न कराने व चुनाव संबंधित सभी तैयारियां पूर्ण करनें हेतु सभी पुलिस अधिकारियों को किया निर्देशित।

पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह द्वारा आगामी सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा 2021 व आगामी विधानसभा चुनाव 2022 के दृष्टिगत पुलिस अधिकारियों व कार्यवाही संस्था के सदस्यों के साथ की गई मीटिंग।

भर्ती परीक्षा को निष्पक्षता से शांतिपूर्ण संपन्न कराने व चुनाव संबंधित सभी तैयारियां पूर्ण करनें हेतु सभी पुलिस अधिकारियों को किया निर्देशित।

आज दिनांक 10/11/2021 को पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह द्वारा पुलिस मुख्यालय, सूरजपुर के सभागार में आगामी सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा 2021 व आगामी विधानसभा चुनावों के दृष्टिगत कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर के सभी पुलिस अधिकारियों के साथ मीटिंग की गई। मीटिंग में पुलिस कमिश्नर द्वारा कहा गया “लोकतंत्र में अपेक्षा रहती है कि कानून का राज हो जो बिना किसी दबाव के निष्पक्षता से कार्य करे। इसके लिए सर्वप्रथम आवश्यक है कि चयन प्रक्रिया निष्पक्ष होनी चाहिए।” उनके द्वारा उपस्थित पुलिस अधिकारियों से कहा गया की यह भर्ती परीक्षा निष्पक्षता के साथ पारदर्शिता के साथ होनी चाहिए।

उनके द्वारा पुलिस अधिकारियों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया की परीक्षा में लगे पुलिस फोर्स व कार्यवाही संस्था के लोगों की ड्यूटी उन परीक्षा केंद्रों पर न लगाई जाए जहां उनका कोई भी नजदीकी रिश्तेदार परीक्षा में सम्मिलित हो रहा हो। परीक्षा के समय एक आकस्मिक फ्लाइंग स्क्वायड कार्यरत रहे जो परीक्षा के दौरान अपनी नजर बनाए रखे। उनके द्वारा डीसीपी क्राइम को सभी परीक्षा केंद्रों का भ्रमण करने व सभी शासन द्वारा जारी गाइडलाइंस का पालन कराने हेतु निर्देशित किया गया।

पुलिस कमिश्नर द्वारा परीक्षा के दौरान विद्युत की सप्लाई बाधित ना हो, इसका भी इंतजाम करने, परीक्षा के लिए उपयोग होने वाले कंप्यूटर सिस्टम को चेक करने व यदि किसी परिस्थिति में विद्युत आपूर्ति बाधित हो भी जाए तो परीक्षा किसी प्रकार से बाधित न हो, यह भी सुनिश्चित करने हेतु कहा गया। उनके द्वारा प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर नियंत्रण कक्ष बनाने, पर्याप्त पुलिस बल की ड्यूटी लगाने, गेट पर सीसीटीवी कैमरे लगवाने व सीसीटीवी कैमरों को चेक करने हेतु निर्देशित किया गया।

उनके द्वारा पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया गया की महिला अभ्यर्थियों की चेकिंग के लिए पर्याप्त संख्या में महिला पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई जाए एवं चेकिंग के लिए अलग से व्यवस्था हो। ड्यूटी पर तैनात पुलिस बल के पास परिचय पत्र हों। केंद्र प्रभारी लगातार भ्रमण करते रहें व यह सुनिश्चित कर ले की कोई अनुचित संसाधन जैसे ब्लूटूथ डिवाइस, मोबाइल या कोई अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस या कोई प्रतिबंधित डिवाइस का प्रवेश न हो। प्रतिबंधित वस्तुओं के संबंध में डीसीपी क्राइम एडवाइजरी जारी की गई है जिसका समाचार पत्रों के माध्यम से प्रकाशन कराया जाए। सभी परीक्षा केंद्रों पर पार्किंग व एंबुलेंस की व्यवस्था भी रहे।

पुलिस कमिश्नर द्वारा आगामी चुनावों के दृष्टिगत जिलाधिकारी कार्यालय से लाइसेंसी शस्त्रों की सूची मंगवाकर उसका मिलान सुनिश्चित करने के लिए भी निर्देशित किया गया। उन्होंने सभी एसीपी को केंद्रीय पुलिस बल व स्थानीय पुलिस बल के ठहरने के स्थान चिन्हित कर उनका भ्रमण करने व पुलिस बल का पूर्ण रूप से वैक्सीनेशन सुनिश्चित करने एवं ऐसे असमाजिक तत्व जो चुनाव को प्रभावित कर सकते है उनकी नियमानुसार सूची तैयार करके उनके विरुद्ध विधिक कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया। उनके द्वारा कहा गया की चुनाव आयोग द्वारा जारी गाइडलाइंस का पालन व कार्यवाही की जाए। सभी थानों में मौजूद शस्त्रों का आर्मोरर द्वारा निरीक्षण कराने व उनसे प्रमाण पत्र लिए जाने एवं समय-समय पर दंगा निरोधक ड्रिल कराने हेतु निर्देशित किया गया।

मीटिंग में अपर पुलिस आयुक्त कानून व्यवस्था लव कुमार, अपर पुलिस आयुक्त मुख्यालय/क्राइम पुष्पांजलि , डीसीपी हेडक्वार्टर मीनाक्षी कात्यायन, डीसीपी क्राइम अभिषेक, एडीसीपी लॉ एंड आर्डर श्रद्धा पांडेय ,स्टाफ ऑफिसर आशुतोष द्विवेदी ,परीक्षा कराने वाली संस्था के सदस्य व अन्य पुलिस अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: