fbpx

१३ साल के बाद बीपीएल राशन कार्ड बनबाने के लिए सर्वे शुरू

प्रदेश में 13 साल के इंतजार के बाद फिर से बीपीएल राशन कार्ड बनवाने के लिए सर्वे शुरू होने जा रहा है। जो भी लोग इसमें अपना नाम जुड़वा कर बीपीएल कार्ड बनवाना चाहते हैं उनसे सरकार ने आवेदन मांग लिए हैं। इसको लेकर सभी खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के जिला कार्यालयों क विभाग की तरफ से पत्र जारी कर दिया है। इसके बाद आवेदन करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।
2006-07 में कांग्रेस सरकार के दौरान बीपीएल लिस्ट यानी गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वालों में नाम जोड़ने के लिए सर्वे किया गया था। उसके बाद से अब तक दोबारा कोई सर्वे नहीं किया गया। केवल जो नाम फर्जी पाए गए थे उन्हें समय-समय पर काटा जरूर गया। 13 साल के लंबे इंतजार में काफी ऐसे नए परिवार थे जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन तो कर रहे हैं लेकिन उनका इस लिस्ट में नाम नहीं है। इसके चलते वो सरकार की योजनाओं का लाभ नहीं ले पा रहे थे। इसलिए ऐसे लोग लगातार इस लिस्ट में नाम जुड़वाने के लिए कार्यालयों के चक्कर काटे जा रहे थे। बीच में कई बार अफवाहें चली कि बीपीएल कार्ड बनेंगे लेकिन हर बार यह बात झूठ निकली। पिछले दिनों सरकार ने कैबिनेट की मीटिंग में निर्णय लिया था कि प्रदेश में एक लाख नए बीपीएल कार्ड बनाए जाएंगे।
बीपीएल कार्ड बनवाने के लिए ये रहेगी प्रक्रिया
आवेदन : बीपीएल राशन कार्ड बनवाने के लिए आवेदक को सरल पोर्टल पर जाना होगा या मिनी सचिवालय में बने सरल केंद्र के अंदर जाना है। वहां से जो फार्म मिलेगा उसे भरकर ऑनलाइन जमा करवाना है।
सर्वे : सभी जगह से आवेदन मिलने के बाद डीआरडीए विभाग के अधिकारी संबंधित खंड विकास कार्यालयों के कर्मचारियों, ग्राम सचिव और पंचायत की मदद से सर्वे करेंगे। इसमें वे मौके पर जाकर देखेंगे कि क्या आवेदक सभी शर्तें पूरी कर रहा है। क्या वह सही में गरीबी रेखा से नीचे है। इसके बाद वो अपनी लिस्ट डीसी कार्यालय में जमा करवा देंगे।
नाम फाइनल : सर्वे के बाद जो लिस्ट डीसी कार्यालय जाएगी उसमें से कौन से नाम लिस्ट में जोड़ने के लिए योग्य हैं या नहीं इसका निर्णय एक कमेटी करेगी। कई विभागीय अधिकारी और जन प्रतिनिधि शामिल होंगे और इस कमेटी के चेयरमैन डीसी होंगे।
अभी ये है स्थिति : प्रदेश में अभी करीब 8 लाख बीपीएल कार्ड हैं, जिसमें से करीब 4.5 लाख केंद्र के तो 3.5 लाख स्टेट के बीपीएल कार्ड हैं। पानीपत जिले में फिलहाल 38732 बीपीएल कार्ड हैं जिसमें से 26746 केंद्र के और 11986 स्टेट के बीपीएल कार्ड हैं।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: