fbpx

139 छात्र पर मात्र एक शिक्षक है,रसलपुर प्राथमिक विधालय मे.

वतन की आवाज मुजफ्फरपुर बिहार प्रवीण झा : बिहार सरकार के लाख दावा के बाद भी शिक्षा की हालत है यह आप रसलपुर के राजकीय प्राथमिक विधालय की हालत देखकर समझ सकते है । सरकार के द्वारा निर्धारित अनुपात के अनुसार 30 छात्र पर एक शिक्षक होना चाहिए। लेकिन इस स्कूल मे 139 बच्चों पर सिर्फ 1 शिक्षक है। रसलपुर के कामेश्वर पांडे राजकीय प्राथमिक विद्यालय मे यही हाल है आज कल। यहाँ पर इस स्कूल मे सिर्फ एक ही शिक्षक है।

हालत यह है कि एक ही शिक्षक इन बच्चों को भी सम्भाल रहे है और कागजी कारवाई को भी। ऐसे मे शिक्षा की हालत क्या होगा यह तो अनुपात देखकर ही पता चल जाता है। यहाँ के प्रधानाध्यापक का कहना है कि उन्होने बी ओ साहब को कई बार पत्र लिख चुके है कि कम से कम दो शिक्षक यहाँ पर दे दिया जाय। लेकिन आज तक यहा पर अकेले ही प्रधानाध्यापक जी मौजुद रहते है 139 बच्चों के बीच।

ऐसे मे प्रधानाध्यापक के लिए समस्या यह है कि उनकी लड़की की शादी है लेकिन छुट्टी लेने मे असमर्थ है। बी ओ तथा जिला प्रशासन की घोर लापरवाही के कारण बच्चों की भविष्य अंधकारमय बनी हुई है। यह विद्यालय अतरार पंचायत के वार्ड नं. 11 मे स्थित है। प्रधानाध्यापक ने बी ओ से उम्मीद रखते हुए गुहार लगाई है कि उनके द्वारा दिया गया आवेदन पर त्वरित कार्यवाही करते हुए वहाँ शिक्षक बहाल किया जायेगा।

 

Please follow and like us:
%d bloggers like this: