स्मृति दिवस 30जुलाई 2021

स्मृति दिवस 30जुलाई 2021
🌹🌹🌹🌹🌹
श्रद्धेय श्री प्रकाश लाल जी
🧘‍♂️🧘🏼‍♀️🧘‍♂️🧘🏼‍♀️🧘‍♂️

भारतीय योग संस्थान की परंपरा के अनुरूप आज 30जुलाई 2021को श्री प्रकाश लाल जी का 12वाँ स्मृति दिवस, नोएडा जिला 1और जिला 2 के संयुक्त कार्यक्रम के अंतर्गत श्रीमती भूपेंद्र कौर जी (प्रांतीय संगठन मंत्री) मुख्य अतिथि तथा जिला प्रधान श्री हरबंस लाल जी ढींगरा की अध्यक्षता में आयोजित किया गया ।
स्मृति दिवस के कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलन , माल्यार्पण,शंखनाद,गहरे लम्बे श्वास तथा गायत्री मंत्र के उच्चारण से किया गया ।
सरस्वती वंदना के पश्चात श्रद्धेय श्री प्रकाश लालजी की पुण्य स्मृति में उनका पूरा जीवन परिचय/ इतिहास सभी साधकों के समक्ष रखा गया कि किस प्रकार से श्री प्रकाश लाल जी ने अपनी युवावस्था से लेकर अंत तक समाज सेवा में अपना जीवन समर्पित कर दिया।
सरगोधा (पाकिस्तान) से भारत आकर दिल्ली में केंद्र की स्थापना कर योग साधकों की सदस्यता में अभूतपूर्व वृद्धि की , जिसके फलस्वरूप आज भारत नहीं अपितु पूरे विश्व में भारतीय योग संस्थान की 4000 से अधिक शाखाएं नियमित रूप से कार्यरत हैं जो निशुल्क सेवा दे रहीं हैं ।
इन सभी केंद्रों के माध्यम से लाखों लोगों को योग के संबंध में जीने की कला जियो और जीवन दो के आधार पर प्रदान की जा रही है ।
कार्यकम के अगले चरण में ताड़ासन,अर्द्धचक्रासन तथा अन्य योगासनों की सुन्दर प्रस्तुति और हंसी के उपरांत सभी विशेष प्रायाणामों का अभ्यास बहुत ही प्रभावी रूप से कराया गया ।
इस बीच योग गीत, भजन तथा काव्यपाठ ने कार्यक्रम को मनमोहक बना दिया ।
प्रांतीय संगठन मंत्री श्रीमति भूपिंदर कौर जी ने श्रद्धेय श्री प्रकाश लाल जी के जीवन के हर क्षेत्र में किए गए उत्कर्ष कार्यों पर एकला चलो की भूमिका से अप:दीपो भव: तक प्रकाश डाला।
यह भी अवगत कराया कि श्रद्धेय श्री प्रकाश लाल जी ने दिल्ली केंद्र की स्थापना के उपरांत जियो और जीवन दो की शिक्षा को प्रसारित करते हुए संस्थान के दिशानिर्देशों जैसे निशुल्क, अराजनैतिक,असंप्रदायिक,बिना गुरु शिष्य, अनुसंधान ,योग मंजरी,योग साहित्य, के संचालन की आधारशिला रखी जो अभी तक निर्बाध रूप से चल रही है ।
आशीष वचन के रूप में श्री हरबंस लाल जी ढींगरा ने सभी से अपेक्षा की कि सभी अधिकारी, केंद्र प्रमुख एक कर्मठ साधक के रूप में कार्य करते हुए श्रद्धेय श्री प्रकाश लाल जी के सपनों को साकार करें।
इस प्रकार की कार्यशैली से संस्थान स्वतः ही शीर्ष की ओर अग्रसर होता रहेगा ।
कार्यक्रम के अंत में प्रार्थना शांति पाठ किया गया ।
ऑन लाईन कार्यक्रम में 140 से अधिक साधको ने परिवार सहित भाग लिया।
श्री हीरा सिंह बिष्ट जी ने सभी का कार्यक्रम मे भाग लेने के लिए धन्यवाद किया।
श्री जवाहर लाल जी ने मंच संचालन कर कार्यक्रम की भव्यता को नए आयाम दिए।
कार्यक्रम मे सरस्वती बन्दना की फोटो संलग्न है ।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: