fbpx

समाजवाद को विकाशवाद से विरोध, भारत को चाहिए नए प्रधानमंत्री

अखिलेश यादव देश का प्रधानमंत्री बदलने के अभियान में लगे है। इसके साथ ही उनकी पार्टी के नेता उनको ही प्रधानमंत्री के उम्मीदवार के रूप में प्रोजेक्ट कर रहे हैं। लखनऊ में तो समाजवादी पार्टी के नेताओं ने पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की जगह-जगह पर होर्डिंग भी लगा दी है।
अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश में भाजपा को रोकने के लिए मायावती की पार्टी बहुजन समाज पार्टी से गठबंधन कर लिया है। इस गठबंधन का अभी तक नेता घोषित नहीं किया गया है। इतना ही नहीं 38-38 सीट पर लडऩे की घोषणा तो जरूर की गई है लेकिन समाजवादी पार्टी व बहुजन समाज पार्टी के बीच अभी 38-38 सीटों का बंटवारा भी नहीं हुआ है। ऐसे में समाजवादी पार्टी के नेताओं ने अखिलेश यादव को पीएम के रूप में प्रोजेक्ट करने का अभियान छेड़ दिया है। लखनऊ में कई जगह पर ऐसे होर्डिंग डॉ. अनुराग यादव ने लगवाए हैं जो अपने को श्रावस्ती से दावेदार भी मान रहे हैं।
लखनऊ शहर में लगे होर्डिग ने अब बसपा के खेमे में खलबली मचा दी है। अखिलेश यादव व मायावती की लखनऊ में संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी मीडिया के कई बार कुरेदने पर गठबंधन के नेता का नाम नहीं बताया गया, ऐसे में अखिलेश यादव का यह होर्डिंग दोनों दलों में खलबली मचाने वाला है। होर्डिंग में लिखा है कि देश में, प्रदेश में, विश्वास है अखिलेश में। चाहिए देश को नया प्रधानमंत्री।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: