रेहड़ी पटरी संचालक एसोसिएशन महासचिव का विडियो वायरल

नमस्कार नोएडा एक भ्रष्ट निकाय है यह मै नही कह रहा हूँ बल्कि देश के सर्वोच्चय न्यायलय नें कहा है। लेकिन यह बात शायद रेहड़ी पटरी संचालक एसोसिएशन वालों को नही पता। यह लोग शायद टीवी देखकर ही रह जाते है कभी अखबार पर नजर नही दौड़ाते अगर दौड़ाये होते तो शायद उनको पहले है पता होता की नोएडा एक भ्रष्ट निकाय है। भले ही विधायक जी ने कहा हो कि यह उनके समय में नही हुआ है, यह तो पहले से ही है। बात तो सही है कि उनके समय में नही हुआ है, लेकिन अगर पहले से है तो उनके सरकार नें अभी तक कोई कार्यवाही क्यों नही की है। जानबुझकर अनजान बनने की दोष आप किसे देंगे। खैर विधायक जी का अपना मत था जो कि जय हिंद जनाब अखबार वालों नें छाप दिया। लेकिन यहाँ हम प्राधिकरण की नही बल्कि प्राधिकरण के सर्किल 2 की बात कर रहे है। जहाँ के परियोजना अभियंता राहुल शर्मा जी है। जो विडियो वायरल हो रहा है उसमें रेहड़ी पटरी संचालक एसोसिएशन के महासचिव श्री श्याम किशोर गुप्ता है और उनके सामने परियोजना अभियंता है। विडियों में कुछ आवाज है कि शायद श्याम किशोर गुप्ता किसी को माफिया कह रहे है। एक व्यक्ति जो कि कोने में बैठा हुआ है उसके तरफ ईशारा करते हुए। अब यह माफिया कौन है यह तो श्याम किशोर गुप्ता जी बतायेंगे और राहुल शर्मा जी बतायेंगे। लेकिन एक अनुमान लगाया जा रहा है कि इस विडियों में जिस पर श्री गुप्ता जी चिल्लाने की गुस्ताखी कर रहे है वह कोई दिलीप पासवान है। खैर जो भी हो गुप्ता जी को इस प्रकार से व्यवहार नही करना चाहिए। क्योकि नोएडा अगर भ्रष्ट निकाय है तो उसमें कौन लोग जाना चाहिए कौन नही जाना चाहिए। किसको प्रवेश मिले , किसको नही मिले ये आप थोड़े ही तय करेंगे। हाँ ये बात जरूर पता चला है कि आपके आने जाने पर प्रतिबंध लग सकता है। आगे से आप नोएडा प्राधिकरण के सर्किल आफिस 2 में नही जा पायेंगे।
अब बात है कि इस विडियों में सच्चा कौन झूठा कौन यह तो जाँच का विषय है। जब जाँच होगा तब होगा फिलहाल तो हम पक्ष जानते है जो विभिन्न अखबारों में छपे है।

सबसे पहले अफसर के हवाले से जय हिंद जनाब में छपे खबर पर नजर डालते है।
अफसर का कहना है कि जब हम अतिक्रमण हटाने जाते है तो अतिक्रमण हटाने वाले अधिकारियों को दबाब में लेकर अपने को सही साबित करना चाहता है। और अगर बात नही बना तो अधिकारियों को ही बदनाम करने के लिए तरह तरह के काम करते है। ऐसा ही एक मामला आया है।
श्याम किशोर गुप्ता नामक व्यक्ति वर्क सर्किल दो प्रभारी राहुल शर्मा के दफ्तर में दाखिल होता है और अपने साथ एक व्यक्ति को लेकर जाता है जो कि विडियों बनाने लगता है। इसी के साथ एक्शन शुरू है जैसा कि विडियों में देखा जा रहा है कि श्याम किशोर गुप्ता अधिकारी पर चिल्लाना शुरू कर देता है। ऐसा लग रहा है जैसे अधिकारी नें कोई गुनाह किया हो, लेकिन जब इसकी पड़ताल की गई तो पता चला कि श्याम किशोर गुप्ता शहर के अलग-अलग ईलाकों के अतिक्रमण करता है और उसका अतिक्रमण न हटाया जाय इसलिए विडियों बना लेता है।
जय हिंद जनाब आगे लिखता है : जब मैने राहुल शर्मा से बातचीत की तो उन्होने बताया कि श्याम किशोर गुप्ता अवैध रूप से रेहड़ी पटरी लगवाता है और उसे न हटाया जाय इसलिए प्राधिकरण के अधिकारियों पर दबाव भी बनाता है। जब भी अतिक्रमण हटाओं अभियान चलाया जाता है तो श्याम किशोर गुप्ता अधिकारियों से सिफारिश करता है कि उसका अतिक्रमण नही हटाया जाय। 2017 मे रेहड़ी पटरी वालों नें रेहड़ी पटरी लगवाने के एवज में पैसे लेने के लिए थाना सेक्टर 20 थाना में रिपोर्ट दर्ज है।
इससे पहले दैनिक जागरण नें रेहड़ी पटरी संचालक वेलफेयर एसोसिएसन के पक्ष रखते हुए लिखा था।
वरिष्ठ प्रबंधक व रेहड़ी पटरी संचालक एसोसिएशन महासचिव के बीच विवाद का विडियो वायरल। पत्र ने लिखा कि शहर में वेंडिंग जोन में रेहड़ी पटरी वालों को जगह देने के लिए एक वेंडिंग जोन कमेटी बनी है। जिसमें प्राधिकरण, पुलिस प्रशासन के अधिकारी के अलावा रेहड़ी पटरी वाले भी साथ में है। इस कमेटी में रेहड़ी पटरी संचालक एसोसिएशन के महासचिव श्याम किशोर गुप्ता भी सदस्य है। शुक्रवार को श्री गुप्ता नें अपनेे फेसबुक पर एक विडियो अपलोड कर दिया जो तेजी से वायरल होने लगा।
जिसमें श्री गुप्ता ने आरोप लगाया है वह शुक्रवार को रेहड़ी पटरी लगाने से जुड़े हाईकोर्ट का एक आदेश को वर्क सर्किल 2 के वरिष्ठ प्रबंधक राहुल शर्मा को दिखाने गए थे, लेकिन उन्होनें देखने से मना कर दिया। उन्होनें यहाँ तक कहा कि हम किसी आदेश को नही मानते है। यही नही मेरे साथ गलत भाषा का प्रयोग करते हुए कार्यालय से बाहर जाने को कहा। जिसका विरोध श्री गुप्ता नें किया जो कि विडियों में देखा जा सकता है। उसके बाद स्टाफ को बुलाकर धक्के मारकर बाहर निकाल दिया।
जबकि इसी खबर के मुताबिक राहुल शर्मा नें बताया कि उन्होने कोई अभद्रता नही की। संबंधित व्यक्ति यानि की श्री गुप्ता रेहड़ी पटरी वालों को ब्लैकमेलिंग करके पैसे वसूलता है। वह कार्यालय में आकर धमका रहा था, जिसके कार्यालय से बाहर जाने के कहा, लेकिन जाने को तैयार नही था। मामले से उच्चाधिकारी को अवगत करा दिया गया है।
अब श्याम किशोर नें जो कहा वह भी सुन लिजिये —–

कल हमको मनोज शर्मा का फोन आया कि आपको वर्क सर्किल 3 के साहब बुला रहे हैं आप आ जाइए मैं सेक्टर 6 में था इंदु प्रकाश से मिलने गया था मैम थी नहीं मीटिंग चल रही थी प्रधानमंत्री के कार्यालय से इंदु प्रकाश के तो उनको हमने पर्ची बना कर दिया तो उन्होंने कहा 3:00 बजे मिले उसके बाद नेहा मैम से मिलने गया नेहा मैम की मीटिंग चल रही थी उसी के बाद हमारे पास फोन आ गया मनोज शर्मा जी का कि आपको साहब बुला रहे हैं तो मैं भी आ रहा हूं मैं उनके ऑफिस पहुंचा और हमारी 1 घंटे इंतजार कर के बाद सत्येंद्र गिरी से बात हुई उसके बाद उनके परियोजना अभियंता से बात भाई जो सर्किल दो के हैं उसके बाद जब वह आते हैं तब यह होता है मैं बैठा हूं आप एक दलाल आकर घुस जाता है उसका इशारा होता है वह कहते हैं बाहर निकलो क्यों नहीं आप अधिकारी मैं जानता हूं सवाल मैं करूं जवाब आपको देना

Please follow and like us:
%d bloggers like this: