fbpx

*मोदी के बयान 🤨पर शिवसेना का पलटवार👊, सत्ता बचाए रखने की बेताबी है 🧐जासूसी*

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर शिवसेना ने एक बार फिर निशाना साधा है। मुखपत्र ‘सामना’ में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मोदी के ‘सत्ता मतलब ऑक्सीजन’ के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि सत्ता अब कुछ लोगों का ही नहीं बल्कि सभी के लिए ‘ऑक्सीजन’ बन गई है। भाजपा में ‘मोदी युग’ चल रहा है। इसलिए मोदी कहेंगे वही सत्य है, ऐसी पार्टी की नीति है। किसी दौर में यह स्थान अटल जी और आडवाणी का था। सत्ता ही राजनीतिज्ञों का ऑक्सीजन है। सत्ता में रहकर भी जो देश को अच्छे दिन दे नहीं सकते, उन्हें विरोधी दल से डर लगता है।

आज की सरकार लोगों के कंप्यूटर और मोबाइल में भी जासूसी कर रही है, यह निर्मल लोकतंत्र, आजादी के लक्षण नहीं हैं। सत्ता बचाए रखने की बेताबी है। उद्धव ने लिखा, रामायण और महाभारत सत्ता के लिए ही हुई। फिर भी उसमें सत्य और असत्य की लड़ाई थी। ‘सत्ता’ यह कोई प्रभु श्रीराम के लिए ऑक्सीजन नहीं थी फिर भी वे वनवास में रहे और आज भी वनवास में ही हैं। लालकृष्ण आडवाणी ने 25 साल पहले राम के नाम पर रथयात्रा निकाली व भारतीय जनता पार्टी का कमल देशभर में खिलाया।

आज का दृश्य ऐसा है कि अयोध्या में प्रभु श्रीराम और राजनीति में आडवाणी वनवास भोग रहे हैं तथा सत्ता के ऑक्सीजन पर दूसरे ही लोग जी रहे हैं। किसी को तय करके वनवास में भेजना यह सत्ता की राजनीति है। जो सत्ता में पहुंच जाते हैं, उन्हें अपने ही लोगों से डर लगता है। मुगल सुल्तानों ने भी तख्त के लिए अपने ‘वालिदों’ को कारावास में भेजा था।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: