fbpx

इस बार नववर्ष के मौके पर होगा नाकोड़ा भैरवजी में भगवान पाश्र्वनाथ का जन्मोत्सव। सबकी मनोकामना पूर्ण होती है।

=======================================
राजस्थान के बाड़मेर जिले के बालोतरा में स्थित मेवानगर में श्री नाकोड़ा भैरवजी का तीर्थ स्थल है। यहां प्रतिवर्ष श्री पाश्र्वनाथ भगवान का जन्म महोत्सव उत्साह और श्रद्वा के साथ मनाया जाता है, लेकिन इस बार यह संयोग है कि जन्म महोत्सव 31 दिसम्बर को है यानि नववर्ष के मौके पर यही वजह है कि इस बार श्रद्वालुओं में कुछ ज्यादा ही उत्साह है। धार्मिक प्रवृत्ति के लोग नववर्ष के मौके पर नाकोड़ा भैरव तीर्थ पर रहेंगे। मेवानगर अब नाकोड़ाजी के नाम से विख्यात हो गया है। मान्यता है कि यहां स्थापित भैरूजी की चमत्कारी प्रतिमा के दर्शन करने से हर मनोकामना पूर्ण होती है। भैरूजी की स्थापना शताब्दियों पूर्व जैनाचार्य कीर्ति रत्न सुरीजी ने अनेक तप और साधना के बाद की थी। इस तीर्थस्थल पर भगवान श्री पाश्र्वनाथ, भगवान ऋषभदेव तथा भगवान शांतिनाथजी की प्रतिमा भी स्थापित है। जैन संस्कृति को प्रदर्शित करने वाली कलाकृतियां देखने लायक है। नाकोड़ा तीर्थ से जुड़े ब्यावर निवासी समाजसेवी प्रकाश जैन ने बताया कि तेला के तपस्वियों को सभी प्रकार के सुविधाएं नाकोड़ा पाश्र्वनाथ ट्रस्ट की ओर से उपलब्ध करवाई जाएगी। 31 दिसम्बर को श्रीमती रोहिणी देवी-पर्बतराज भण्डारी और श्रीमती कमला देवी-भंवरलाल भण्डारी की ओर से प्रसादी का वितरण होगा। एक जनवरी को भक्ति संध्या के साथ महोत्सव का समापन होगा। इस अवसर पर श्वेताम्बर जैन समाज के अनेक साधु-संत उपस्थित रहेंगे। महोत्सव के सम्बन्ध में और अधिक जानकारी ट्रस्ट के ट्रस्टी रमेश चंद मूथा (9840062232), आनंद हुण्डिया (9829024486), जितेश मेहता (7737102121) तथा प्रकाश जैन (9887431480) से ली जा सकती है।

Please follow and like us:
%d bloggers like this: